जम्मू-कश्मीर में भी पास हुआ जीएसटी, जेटली ने कहा- 'एक देश, एक कर' का सपना हुआ पूरा

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर विधानसभा में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक के पारित होने के साथ ही भारतीय अर्थव्यवस्था के एकीकरण का सपना सच हो गया.

जम्मू-कश्मीर में भी पास हुआ जीएसटी, जेटली ने कहा- 'एक देश, एक कर' का सपना हुआ पूरा

गुरुवार को वित्त मंत्री ने तालकटोरा स्टेडियम में जीएसटी पर बुलाई एक सभा को संबोधित किया (फाइल फोटो)

खास बातें

  • जीएसटी पास करने वाला जम्मू-कश्मीर अंतिम राज्य है
  • जीएसटी पर तालकटोरा स्टेडियम में भाजपा कार्यकर्ताओं का सम्मेलन
  • वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सम्मेलन को किया संबोधित
नई दिल्ली:

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर विधानसभा में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक के पारित होने के साथ ही भारतीय अर्थव्यवस्था के एकीकरण का सपना सच हो गया.

दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा, "सरदार वल्लभभाई पटेल ने देश के भौगोलिक एकीकरण के लिए काम किया और उसे पूरा किया, लेकिन देश में आर्थिक नियम-कानून हर राज्य के लिए अलग-अलग बने हुए थे. 70 वर्षों के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेहद लगन के साथ काम किया और सभी राज्यों को 17 अलग-अलग तरह के करों और 23 तरह के अधिभारों को खत्म करने तथा जीएसटी को अपनाने के लिए सहमत किया."

जेटली ने कहा कि एक जुलाई से देशभर में जीएसटी के लागू होने के साथ ही भारत के आर्थिक एकीकरण का सपना भी सच हो गया. उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में जीएसटी विधेयक को पारित किए जाने के बाद 'एक राष्ट्र, एक विधान' का सपना देखने वाले श्यामा प्रसाद मुखर्जी की आत्मा को शांति मिल गई होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि बुधवार को जम्मू-कश्मीर की विधानसभा में भी जीएसटी बिल को मंजूरी मिल गई. हालांकि कांग्रेस और फारूक अब्दुल्ला वाली नेशनल कांफ्रेंस ने इस बिल पर कड़ा विरोध प्रकट किया था, लेकिन सरकार ने विरोध की परवाह न करते हुए बिल को हरी झंडी दिखा दी. जीएसटी पास करने वाला जम्मू-कश्मीर आखिरा राज्या था. 

(इनपुट आईएएनएस से भी)