NDTV Khabar

कांग्रेस के लिए आज का दिन अहम, संसदीय दल की बैठक में चुना जा सकता है नेता

कांग्रेस के नवनिर्वाचित लोकसभा सांसदों की पहली बैठक शनिवार को होगी, जिसमें कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) का नेता चुने जाने की संभावना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस के लिए आज का दिन अहम, संसदीय दल की बैठक में चुना जा सकता है नेता

खास बातें

  1. कांग्रेस के नवनिर्वाचित लोकसभा सांसदों की पहली बैठक आज
  2. कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) का नेता चुने जाने की संभावना
  3. सीपीपी की अध्यक्षता सोनिया गांधी कर रही हैं
नई दिल्ली:

कांग्रेस के नवनिर्वाचित लोकसभा सांसदों की पहली बैठक शनिवार को होगी, जिसमें कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) का नेता चुने जाने  की संभावना है. सूत्रों ने बताया कि अभी सीपीपी की अध्यक्षता सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) कर रही हैं और पार्टी के सभी 52 लोकसभा सांसद बैठक में मौजूद रहेंगे. इस बैठक में कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य भी हिस्सा लेंगे. उन्होंने बताया कि सीपीपी की बैठक संसद के सेंट्रल हॉल में होगी, जिसमें संसद के आगामी सत्र के लिए रणनीति भी तय की जाएगी. सूत्रों ने बताया कि 17वीं लोकसभा के गठन के बाद अपनी पहली बैठक में कांग्रेस सांसद निचले सदन में अपने नेता का चुनाव भी कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि बीते 25 मई को हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद यह पहली आधिकारिक बैठक होगी जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) शिरकत करेंगे.

वायनाड के किसान की आत्महत्या के बाद 'एक्शन' में राहुल गांधी, CM को पत्र लिखकर की ये मांग


कार्यसमिति की बैठक के दौरान राहुल ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी. कांग्रेस कार्यसमिति पहले ही उनके इस्तीफे की पेशकश खारिज कर चुकी है और सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित कर उन्हें पार्टी के हर स्तर पर ढांचागत बदलाव लाने के लिए अधिकृत किया है. बता दें कि लोकसभा चुनावों में करारी हार के बाद भले ही कांग्रेस के अंदर उथल-पुथल मची हो और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने की बात पर अड़े हों, लेकिन कांग्रेस के लिए कर्नाटक से अच्छी खबर है. पार्टी ने राज्य में हुए स्थानीय निकाय चुनाव में शुक्रवार को सबसे अधिक सीटें जीतीं.

नए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के सामने हैं ढेरों चुनौतियां, कैसे करेंगे सामना!

राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार 56 शहरी स्थानीय निकायों में कुल 1,221 वार्डों में से कांग्रेस ने 509 वार्डों में जीत हासिल की जबकि भाजपा को 366 स्थानों पर जीत मिली. अकेले चुनाव लड़ने वाली जद-एस को 174 वार्डों में जीत मिली. 160 वार्डों में निर्दलीय उम्मीदवार विजयी हुए जबकि बसपा को तीन, माकपा को दो और अन्य दलों को सात सीटें मिलीं. सात नगर परिषदों के 217 वार्डों, 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों और 19 नगर पंचायतों के 290 वार्डों के परिणाम घोषित किए गए. 

VIDEO: रवीश की रिपोर्ट : बीजेपी की जीत प्रधानमंत्री किसान योजना का जादू?

टिप्पणियां

(इनपुट:भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement