Lok Sabha Election 2019: आंकड़ों में दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव, आइये जानते हैं कैसे है यह खास..

इस बार चुनाव में 90 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में करीब 8.15 करोड़ लोग वोट देने योग्‍य थे लेकिन केवल 55 करोड़ लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था.

Lok Sabha Election 2019: आंकड़ों में दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव, आइये जानते हैं कैसे है यह खास..

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े रोचक तथ्य...

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) इस धरती पर होने वाली सबसे बड़ी लोकतांत्रिक कार्यवाही है, जिसमें करोड़ों की तादाद में भारतीय जनता अपने मताधिकार का प्रयोग करेगी. इतने बड़े पैमाने पर चुनाव कराना मामूली बात नहीं है, सो, यहां देखिए, कुछ चौंकाने वाले आंकड़े, जिनकी जानकारी केंद्रीय चुनाव आयोग ने चुनाव कार्यक्रम घोषित करने के दौरान दी है.

90 करोड़
इस बार चुनाव में 90 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में करीब 8.15 करोड़ लोग वोट देने योग्‍य थे लेकिन केवल 55 करोड़ लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. भारत में 1951 में हुए पहले आम चुनाव में करीब 17.3 करोड़ योग्‍य मतदाता थे.

8.5 करोड़
अगर 2014 में हुए आम चुनाव से तुलना करें तो इस बार योग्‍य मतदाताओं की सूची में 8.5 करोड़ नए मतदाता जुड़ गए हैं. 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी ने शानदार जीत हासिल करते हुए सत्ता हासिल की थी.

1.5 करोड़
यह उन मतदाताओं की संख्‍या है जिनकी उम्र 18 से 19 साल है और ये लोग पहली बार वोट डालेंगे. भारत की दो तिहाई आबादी की उम्र 35 वर्ष से कम है.

38,325 ट्रांसजेंडर
38,325 वोटर ट्रांसजेंडर हैं, जिन्‍हें सुप्रीम कोर्ट ने 2014 में तीसरे जेंडर के रूप में मान्‍यता दी थी.

11 लाख
इस महा चुनाव में सभी वोटों को डाले जाने के लिए 11 लाख ईवीएम यानी इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की आवश्‍यकता होगी.

10 लाख
10 लाख मतदान केंद्र स्‍थापित किए जाएंगे.

8,251
2014 में हुए लोकसभा चुनाव में 8,251 उम्‍मीदवारों ने हिस्‍सा लिया था.

3,626
कुल 3,626 राजनीतिक पार्टिंया हैं, हालांकि चुनाव आयोग से केवल 1841 को ही मान्‍यता दी है.

545
निचले सदन यानी लोकसभा में कुल 545 सीटें हैं. इनमें से 543 के लिए चुनाव होंगे जबकि दो आरक्षित हैं.

186
2014 में हुए लोकसभा चुनाव में 186 ऐसे उम्‍मीदवार जीतकर आए जिनका आपराधिक रिकॉर्ड था.

4.2 करोड़
पिछले चुनाव में चुनाव अधिकारियों ने राजनेताओं और उनके समर्थकों के पास से 4.2 करोड़ डॉलर जब्‍त किए थे. इसमें वोट खरीदने के लिए भी पैसे थे. उम्‍मीदवारों को केवल एक लाख डॉलर खर्च करने की इजाजत है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

1.6 करोड़
2014 में चुनाव प्रचार के दौरान अधिकारियों ने 1.6 करोड़ लीटर शराब जब्‍त की थी. गरीबों के वोट खरीदने के लिए अक्‍सर शराब का उपयोग किया जाता है.

17000
2014 में चुनाव के दौरान 17000 किलोग्राम अवैध ड्रग्‍स भी जब्‍त की गई थी.