NDTV Khabar

हवाई सुरक्षा के मुद्दे पर कोई कोताही बर्दाश्त नहीं : सुरेश प्रभु

प्रभु का यह बयान नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा 14 ए-320 नियो विमानों को खड़ा करने के बाद आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हवाई सुरक्षा के मुद्दे पर कोई कोताही बर्दाश्त नहीं : सुरेश प्रभु

नागरिक विमानन मंत्री सुरेश प्रभु (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा है कि हवाई सुरक्षा के मुद्दे पर किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने स्पष्ट किया की इंजन समस्या की वजह से जो विमान खड़े कर दिए गए हैं, इस मुद्दे का हल होने तक उन्हें उड़ान की अनुमति नहीं दी जाएगी. प्रभु का यह बयान नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा 14 ए-320 नियो विमानों को खड़ा करने के बाद आया है. इन विमानों का परिचालन इंडिगो और गोएयर द्वारा किया जा रहा था. इन विमानों के प्रैट एंड व्हिटनी इंजन में समस्या के चलते इन्हें उड़ान से रोक दिया गया. प्रभु ने कहा, ‘‘प्रैट एंड व्हिटनी ने इंजन में बाद में कुछ हिस्सा जोड़ा है जिससे इनमें कुछ चुनौतियां खड़ी हो गईं. मेरे नागर विमानन मंत्री बनने के बाद मुझे इसके बारे में बताया गया. मैंने कहा था कि यह काफी जोखिम वाला है और किसी भी कीमत पर सुरक्षा से समझौता नहीं होगा.’’

प्रभु ने 12 मार्च को नागर विमानन मंत्रालय का पदभार संभाला था. उन्होंने स्पष्ट किया कि सुरक्षा से किसी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा. उसी दिन डीजीसीए ने इंडिगो और गोएयर को 11 ए-320 नियो विमानों को खड़ा करने का निर्देश दिया था. प्रभु ने कहा कि उन्हें इस खामी को ठीक करने दें. उस समय तक उन्हें उड़ान की अनुमति नहीं दी जाएगी. एयरलाइंस को वैकल्पिक व्यवस्था करने को कहा गया है.


पिछले महीने इंडिगो और गोएयर के 14 विमानों को खड़ा कर दिया गया. प्रैट व्हिटनी द्वारा अलग इंजन लगाने के बाद इनमें से कुछ विमानों ने फिर परिचालन शुरू कर दिया. विमानों को खड़ा करने के बाद दोनों एयरलाइंस की कई उड़ानें रद्द हुई हैं. क्षेत्रीय हवाई संपर्क योजना उड़ान (उड़े देश का आम नागरिक) के बारे में पूछे जाने पर प्रभु ने कहा कि कोष की कमी नहीं है. ‘क्रॉस सब्सिडी’ के जरिये धन आ रहा है. इसमें कोई समस्या नहीं है.

टिप्पणियां

VIDEO: डीजीसीए की सख्ती का असर, इंडिगो-गो एयर की 65 उड़ानें रद्द

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement