जनवरी 2020 से बदल जाएंगे कई नियम, नए वर्ष आने से पहले जान लें क्या हैं इसके प्रावधान...

भारतीय रिजर्व बैंक के आदेशों के अनुसार 1 जनवरी 2020 से NEFT ट्रांजेक्शन के लिए ग्राहकों को कोई चार्ज नहीं देना होगा. 

जनवरी 2020 से बदल जाएंगे कई नियम, नए वर्ष आने से पहले जान लें क्या हैं इसके प्रावधान...

1 जनवरी 2020 से बदल जाएंगे कई नियम

नई दिल्ली:

1 जनवरी 2020 की शुरुआत के साथ ही कई नियमों में बदलाव होने जा रहे हैं. बैंकिग सेक्टर से लेकर ऑटो सेक्टर तक में कई बदलाव देखने को मिलेंगे. एक तरफ जहां NEFT में लगने वाले शुल्क से आम लोगों को राहत मिलेगी, वहीं दूसरी तरफ ऑटो सेक्टर में महंगाई की मार झेलनी पड़ सकती है. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से EBR दरों में गिरावट के कारण होम लोन सस्ते हो सकते हैं तो वहीं एसबीआई से रात के समय 10 हजार या उससे अधिक कैश निकालने पर ग्राहकों को OTP की जरूरत होगी. केंद्र सरकार की तरफ से टैक्स से जुड़े मामलों के निपटारा के लिए चल रहे सबका विश्वास योजना 1 जनवरी से बंद हो रहे हैं, वहीं उम्मीद की जा रही है कि 2020 से सरकार सभी ज्वेलर्स के लिए हॉलमार्किंग की व्यवस्था अनिवार्य कर सकती है.

NEFT ट्रांजेक्शन चार्ज से मिलेगी आजादी
भारतीय रिजर्व बैंक के आदेशों के अनुसार 1 जनवरी 2020 से NEFT ट्रांजेक्शन के लिए ग्राहकों को कोई चार्ज नहीं देना होगा. आरबीआई की तरफ से डिजिटल रिटेल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाए गए हैं. आरबीआई पहले एनईएफटी के लिए बैंकों से चार्ज लेता था, लेकिन जुलाई 2019 में उसने बैंकों से यह चार्ज लेना बंद कर दिया.

होम लोन होगा सस्ता
भारतीय स्टेट बैंक ने 1 जनवरी 2020 से ईबीआर (EBR) को कम करने का फैसला लिया है. जिससे आम लोगों के लिए होम लोन सस्ता हो जाएगा. SBI की पहले 8.05 प्रतिशत EBR दर थी जिसे घटाकर उसने जनवरी 2020 से 7.8 प्रतिशत कर दिया है. 

मैग्नेटिक स्ट्राइप वाले कार्ड ही करेंगे काम
जनवरी 2020 से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बिना मैग्नेटिक स्ट्राइप वाले कार्ड काम करना बंद कर देंगे, जिन ग्राहकों ने अबतक इसे नहीं बदला है उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. एसबीआई की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया था कि  मैग्नेटिक स्ट्राइप वाले कार्ड गारंटीड ऑथेंटिसिटी, ऑनलाइन पेमेंट के लिए पहले से अधिक सुरक्षित और फर्जीवाड़े से खुद को सुरक्षा प्रदान करने वाला है.

PAN कार्ड से आधार को 31 मार्च तक करना होगा लिंक
CDBT ने PAN कार्ड से आधार को लिंक कराने की अंतिम तारीख 31 मार्च 2020 तक बढ़ा दी है. पहले यह तारीख 31 दिसंबर 2019 तक थी. CDBT ने कई बार आधार को पैन से जोड़ने की समय-सीमा बढ़ाई है. वर्ष 2019 में अदालत ने सरकार की आधार योजना को संवैधानिक स्तर पर सही करार दिया था और पैन को आधार आपस से जोड़ने को अनिवार्य बनाए जाने की सरकार की योजना के समर्थन में फैसला दिया था.

SBI से कैश निकालने के लिए जरूरी होगा OTP
एक जनवरी 2020 से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने एटीएम से कैश निकालने के तरीके में बड़ा बदलाव करने जा रहा है. अब रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक एटीएम से कैश निकालने के लिए आपको बैंक में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आया ओटीपी बताना होगा. यह नियम 10 हजार रुपए से ज्यादा के कैश ट्रांजैक्शन पर लागू होगा.

गहनों की हॉलमार्किंग होगी जरूरी
आने वाले वर्ष में सरकार सोने की शुद्धता की गारंटी को लेकर सभी ज्वेलर्स के लिए हॉलमार्किंग की अनिवार्यता के नियम को लागू कर सकती है. हॉलमार्किंग सोने की शुद्धता का पैमाना माना जाता है. केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा है कि सरकार आने वाले साल में सभी जिलों में हॉलमार्किंग सेंटर शुरू करने के लक्ष्य पर काम कर रही है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सरकार बंद कर रही है सबका विश्वास स्कीम
1 जनवरी 2020 से सरकार सबका विश्वास स्कीम को बंद करने जा रही है, योजना का मकसद बकाया कर राशि वालों को आंशिक छूट देकर कर विवादों का जल्द से जल्द निपटारा करना था इस योजना को 1 सितंबर 2019 से लागू किया था

कार और बाइक की कीमत बढ़ेगी
देश की अधिकतर कार और बाइक बनाने वाली कंपनियों ने आने वाले वर्ष में अपने दाम बढाने का फैसला लिया है. जिससे आने वाले साल में इसके कीमतों में बढ़ोत्तरी देखने को मिलेगी. गौरतलब है कि भारत में 31 मार्च 2020 के बाद सिर्फ बीएस-6 मानक के गाडि़यों की ही बिक्री हो सकेगी.