यह हैं पाकिस्तान के वे पकड़े गए संदेश जो एफ-16 विमान को मार गिराए जाने के पुख्ता सबूत

एयरबॉर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम से पता चलता है कि अभिनंदन के साथ डॉगफाइट के दौरान एफ-16 राडार में आठ-दस सेकेंड के अंदर गायब हो गया

यह हैं पाकिस्तान के वे पकड़े गए संदेश जो एफ-16 विमान को मार गिराए जाने के पुख्ता सबूत

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • तीन मुख्य इंटरसेप्ट से स्पष्ट तौर पर पता चलता है कि दो एयरक्रॉफ्ट गिरे
  • इनमें से एक अभिनंदन का मिग 21 था और दूसरा पाक का एफ-16 था
  • साफ संकेत मिले कि सबी कोट और तंदार में दो पैराशूट नीचे आए
नई दिल्ली:

भारत और पाकिस्तान की वायुसेना की 27 फरवरी को हुई डॉगफाइट के दौरान भारतीय एजेंसियों ने पाकिस्तान के तीन रेडियो इंटरसेप्ट रिकॉर्ड किए हैं, जिनसे पाकिस्तानी वायुसेना का एफ-16 गिराए जाने की पुष्टि होती है.

एयरबॉर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम (AEWCS) के इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर के दो फोटो से पता चलता है कि अभिनंदन के साथ डॉगफाइट के दौरान एफ-16 राडार में आठ-दस सेकेंड के अंदर गायब हो गया. पाकिस्तान का एफ-16 विमान पाकिस्तान के एयरफोर्स बेस पर नहीं लौटा. पाकिस्तान के एयर बेस से यह संकेत 'कॉल साइन' से मिले.

एयरफोर्स सूत्रों के अनुसार रेडियो टेलिफोन पर हुई बातचीत, इंटरसेप्ट और राडार सिस्टम से साफ संकेत मिले कि विंग कमांडर अभिनंदन ने मिग 21 से एफ-16 को सबी कोट इलाके में मार गिराया.  यह इलाका नौशेरा क्षेत्र में नियंत्रण रेखा (LoC) से सात-आठ किलोमीटर दूर है.  

तीन मुख्य इंटरसेप्ट से स्पष्ट तौर पर पता चलता है कि दो एयरक्रॉफ्ट गिरे. एक मिग 21 और दूसरा एफ-16. यह संदेश पाकिस्तान की 7 लाइट इंन्फेंट्री के हैं. जो कि 27 फरवरी को दोपहर में 12 बजकर 5 मिनिट पर पकड़े गए.  यह संदेश है
“ये एनिमी का तबाह हुआ है जो परिंदा, ये परिंदे हैं जो, वो दोनों परिंदे पकड़ लिए हैं. “

इसके बाद 27 फरवरी को दोपहर 12.42 बजे पकड़े गए दूसरे संदेश में कहा गया “एनिमी के जो तबाह हुए परिंदे हैं पकड़ के हम अपनी यूनिट में ले जा रहे हैं (इसका मतलब अभिनंदन), अभी दूसरा भी 658 वाले पकड़ के ले जा रहे हैं. “

यह भी पढ़ें : बालाकोट हमला: पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ एफ 16 फाइटर प्लेन के इस्तेमाल से किया इनकार

27 फरवरी को ही अपराह्न 15.20 बजे जनरल एरिया बारोट इंटरसेप्ट में पता चला “विंग कमांडर अभिनंदन को, मिग पायलट को पकड़ लिया है, दूसरे को ज़ख़्मी को CMH ले जा रहे हैं.“(command military hospital, Manglq area, pakistan).

VIDEO : पाकिस्तान के एफ-16 पर उठे सवाल

भारतीय वायुसेना के फाल्कन AWACS द्वारा पकड़े गए इलेक्ट्रानिक सिग्नेचर से भारतीय सेना ने इस बात की पुष्टि की है कि सबी कोट  और तंदार में दो पैराशूट नीचे आए. इन दोनों स्थानों के बीच आठ-नौ किलोमीटर का फासला है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com