NDTV Khabar

केरल में भारी बारिश और बाढ़ का यह है कारण; नासा ने किया खुलासा, देखें VIDEO

उपग्रह से मिले आंकड़ों का इस्तेमाल करते हुए नासा ने एक वीडियो जारी किया, केरल में मौसम की भयावह स्थिति का चलता है पता

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केरल में भारी बारिश और बाढ़ का यह है कारण; नासा ने किया खुलासा, देखें VIDEO

नासा ने केरल में भीषण बारिश और बाढ़ के कारणों का खुलासा किया है.

खास बातें

  1. पिछले सौ साल में सबसे विनाशकारी बाढ़ से जूझ रहा है केरल
  2. हिमालय की स्थिति, पश्चिमी घाट के कारण दक्षिणी पश्चिमी तट पर भारी बारिश
  3. हिंद, अरब सागर से आ रही गर्म हवाओं में मौजूद नमी पर्वत श्रेणी से टकरा रही
वाशिंगटन: नासा ने उपग्रह से प्राप्त आंकड़ों का इस्तेमाल करते हुए एक वीडियो जारी किया है. इससे केरल में बारिश और बाढ़ की स्थिति की भयावहता का पता चलता है.

भारत में आम तौर पर इस समय में ग्रीष्मकालीन मॉनसून आता है और क्षेत्र में भारी बारिश होती है. हालांकि सामान्य मॉनसून के दौरान समय-समय पर कम दबाव के क्षेत्र बन सकते हैं. इस कारण अधिक बारिश हो सकती है. केरल पिछले सौ साल में सबसे विनाशकारी बाढ़ से जूझ रहा है और अब तक 231 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों लोग विस्थापित हुए हैं. केंद्र ने इस आपदा को ‘गंभीर’ बताया है.

नासा ने एक बयान में कहा है कि हिमालय की भौगोलिक स्थिति और पश्चिमी घाट के कारण दक्षिणी पश्चिमी तट पर भारी बारिश हो रही है. यह पर्वतश्रेणी हिमालय जितनी बड़ी तो नहीं है लेकिन भारत के पश्चिमी तट के समानांतर चलती है. इसकी कई चोटियां 2,000 मीटर से भी अधिक ऊंची हैं.

टिप्पणियां
VIDEO : सदी की सबसे बड़ी त्रासदी से जूझ रहा केरल

इस तरह से देखें तो पश्चिमी घाट की माकूल स्थिति के कारण भारत के पश्चिमी तटीय इलाकों में अधिक बारिश होती है. दक्षिण पश्चिम मॉनसून के तहत उत्तरी हिंद महासागर और अरब सागर से आने वाली गर्म हवाओं में निहित नमी इस पर्वत श्रेणी से टकराती है, जिससे अधिक बारिश होती है.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement