NDTV Khabar

ड्राइवरों की शराब और पोर्नोग्राफी की लत छुड़ाने के लिए यह तरीका अपना रही पुलिस

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से टैक्सी चलाने वाले ड्राइवरों का डी एडिक्शन करने के लिए एक साल तक मुहिम चलाएगी पुलिस

203 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ड्राइवरों की शराब और पोर्नोग्राफी की लत छुड़ाने के लिए यह तरीका अपना रही पुलिस

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से टैक्सी चलाने वाले ड्राइवरों की बुरी लतें छुड़ाने के लिए काउंसलिंग की जा रही है.

खास बातें

  1. एयरपोर्ट पर आने वाले यात्रियों की सुरक्षा के लिए चलाई जा रही मुहिम
  2. विदेशी यात्रियों के सामने देश की छवि खराब होने से बचाने का प्रयास
  3. मुहिम के तहत करीब 5000 टैक्सी ड्राइवरों की काउंसलिंग की जाएगी
नई दिल्ली: दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आने वाले मुसाफिरों, खास तौर पर महिला मुसाफिरों की सुरक्षा को देखते हुए एयरपोर्ट के टैक्सी ड्राइवरों को शराब और पोर्नोग्राफी की लत से बचाने के लिए उनका डीएडिक्शन किया जा रहा है. यह मुहिम एक साल तक चलेगी और फिर देखा जाएगा कि क्राइम में कितना फर्क आया.

दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पुलिस थाने में टैक्सी ड्राइवरों को बताया जा रहा है कि उन्हें सवारियों से कैसा बर्ताव करना है. ड्राइविंग के वक्त शराब से दूर रहना है. बताया जा रहा है कि रिस्पॉन्सिबल ड्रिंकिंग क्या होती है, पोर्नोग्राफी से दूर रहना है. दिल्ली पुलिस यह कदम इसलिए उठा रही है क्योंकि टैक्सी ड्राइवर सबसे ज्यादा अपराध शराब के नशे में करते हैं. उनके बुरे बर्ताव की वजह से देश की छवि खराब होती है.

यह भी पढ़ें :  ग्रेटर नोएडा में टैक्सी ड्राइवर सहित दो लोगों ने महिला से किया बलात्कार, आभूषण भी छीना

आईजीआई के डीसीपी संजय भाटिया ने बताया कि सबसे पहले मुसाफिर आकर लास्ट मील कनेक्टिविटी के लिए एयरपोर्ट पर टैक्सी ड्राइवर से मिलते हैं. इससे एक छवि भी बनती है. हम यह स्टडी करेंगे कि इस प्रोग्राम से उनके बर्ताव में कितना फर्क आया.
 
delhi igi airport police

पुलिस के मुताबिक हर रोज़ अलग-अलग बैच में टैक्सी ड्राइवरों की काउंसलिंग और डी एडिक्शन कराया जा रहा है. यह मुहिम एक साल तक चलेगी जिसमें एयरपोर्ट से टैक्सी चलाने वाले करीब 5000 टैक्सी ड्राइवर हिस्सा लेंगे.

कई टैक्सी ड्राइवर इस कार्यक्रम में शामिल होने के बाद अपनी बुरी लत छोड़ चुके हैं और इस मुहिम को सही ठहरा रहे हैं. टैक्सी ड्राइवर विजय ने कहा कि ''मुझमें शराब छोड़ने के बाद बहुत बदलाव आया. पहले सवारियां कई बार शिकायतें करती थीं कि आपके मुंह से शराब की स्मेल आ रही है. कई बार झगड़ा भी हो जाता था. कई बार हम सवारियों को तंग करने के लिए लंबा रास्ता ले लेते थे. लेकिन अब मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं. सवारियों को भी हमसे कोई शिकायत नहीं है.'' टैक्सी ड्राइवर दलबीर सिंह ने कहा कि ''ये कार्यक्रम बहुत जरूरी है हमारे लिए, हम बदलाव महसूस कर रहे हैं. हमारा कोई साथी सवारी से शराब पीकर बुरा बर्ताव करता है तो बदनामी सबकी होती है.''

VIDEO : ड्राइवर ने लड़की से की छेड़छाड़


पुलिस के मुताबिक आईजीआई एयरपोर्ट से हर रोज़ करीब एक लाख लोग सफर करते हैं, जिसमें बड़ी संख्या में विदेशी भी होते हैं. उनकी सुरक्षा के लिए यह कदम बेहद जरूरी है क्योंकि अक्सर टैक्सी ड्राइवरों के बुरे वर्ताव की शिकायतें आती हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement