कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन में इस शख्स ने दी थी पनाह, हिरासत में लेकर पुलिस कर रही पूछताछ

उत्तर प्रदेश के कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी कुख्ताय गैंगस्‍टर विकास दुबे (Vikas Dubey) को मध्‍यप्रदेश पुलिस ने गुरुवार सुबह उज्‍जैन से गिरफ्तार कर लिया.

कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन में इस शख्स ने दी थी पनाह, हिरासत में लेकर पुलिस कर रही पूछताछ

कानपुर का कुख्यात विकास दुबे गिरफ्तार

भोपाल:

उत्तर प्रदेश के कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी कुख्ताय गैंगस्‍टर विकास दुबे (Vikas Dubey) को मध्‍यप्रदेश पुलिस ने गुरुवार सुबह उज्‍जैन से गिरफ्तार कर लिया. विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद कई सवाल उठने शुरू हो गए हैं कि वह कानपुर से उज्जैन कैसे पहुंचा. उज्जैन में उसे किसने आश्रय दिया.पुलिस ने बताया कि दुबे को उज्जैन में एक स्थानीय शराब ठेकेदार आनंद तिवारी ने आश्रय दिया था. यूपी के रहने वाले तिवारी ने बुधवार को अपने घर पर ही दुबे के रात्रि विश्राम की व्यवस्था की थी और सुबह मंदिर जाने की व्यवस्था भी की थी. आनंद तिवारी और उसके कुछ अन्य सहयोगियों को उज्जैन पुलिस ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. विकास दुबे ने मंदिर में कतार में खड़े होकर काउंटर से 251 रुपये का टिकट प्राप्त किया और फिर पूजा-अर्चना की.


गौैरतलब है कि कानपुर के चौबेपुर में घटना को अंजाम देकर फरार विकास पहले दिल्ली-एनसीआर पहुंचा, लेकिन पुलिस की जबरदस्त दबिश के बाद वह फिर मध्यप्रदेश के उज्जैन जिला पहुंचा, जहां उसे एमपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे को मंगलवार को दिल्ली से सटे हरियाणा के फरीदाबाद में एक होटल में देखा गया था. लेकिन जब पुलिस वहां छापा मारने पहुंची तो वह वहां से निकल चुका था. वहां से गैंगस्टर विकास दुबे मध्य प्रदेश की तरफ भाग निकला. उज्जैन में गुरुवार को सुबह 8 बजे महाकाल मंदिर परिसर पहुंचा, वहां प्रसाद की एक दुकान पर एक दुकानदार को शक हुआ. उसने मंदिर सिक्योरिटी को बताया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:रवीश कुमार का प्राइम टाइम : विकास दुबे की कहानी वेंटिलेटर के झूठे विकास के जैसी है