NDTV Khabar

कश्मीर में सुरक्षाबलों का ऑपरेशन ऑल आउट, 13 आतंकी ढेर, तीन जवान शहीद

दक्षिण कश्मीर में हुई तीन अलग- अलग मुठभेड़ों में सुरक्षा बलों को रविवार को बड़ी सफलता मिली है. इन मुठभेड़ों में 12 आतंकवादी मारे गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्मीर में सुरक्षाबलों का ऑपरेशन ऑल आउट, 13 आतंकी ढेर,  तीन जवान शहीद

दक्षिण कश्मीर में हुई तीन अलग- अलग मुठभेड़ों में आठ आतंकी ढेर

खास बातें

  1. एक आतंकी ने आत्मसमर्पण किया है
  2. सेना के दो जवान शहीद हो गए हैं
  3. दो नागरिकों की मौत कानून-व्‍यवस्‍था बनाए रखने के चलते हुई
नई दिल्ली:

दक्षिण कश्मीर में हुई तीन अलग- अलग मुठभेड़ों में सुरक्षा बलों को रविवार को बड़ी सफलता मिली है. सुरक्षाबलों ने ऑपेरशन ऑल आउट में 13 आतंकियों को मार गिराया है, जबकि एक ने आत्मसमर्पण कर दिया है. इस दौरान सुरक्षाबलों को स्थानीय नागरिकों का विरोध भी झेलना पड़ा, अब तक चार नागरिकों की मौत हो गयी है. साथ ही दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए. इस कार्रवाई में तीन जवान भी शहीद हुए हैं. इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है. आंतकियों की मौत की खबर फैलने के बाद शोपियां, अनंतनाग, कुलगाम और पुलवामा में तनाव फैल गया है. एक ओर अलगाववादियों ने कश्मीर में दो दिन के बंद का ऐलान किया है. वहीं जम्मू-कश्मीर सरकार ने भी एहतियात के तौर पर सोमवार को सभी स्कूल और कॉलेज बंद करने का फैसला किया है. दक्षिण कश्मीर में इंटरनेट और रेल सेवा दोनों अस्थायी रूप से बंद कर दी गई हैं.

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद्य ने रविवार शाम को ट्वीट कर मुठभेड़ खत्म होने की जानकारी दी. वैद्य के मुताबिक कुल 13 आतंकी मारे गए, जबकि एक आतंकी को जिंदा पकड़ा गया. डीजीपी वैद्य के मुताबिक ये दुर्भाग्यपूर्ण है मुठभेड़ स्थल पर पत्थरबाजी होने के कारण चार आम नागरिकों की मौत हो गई.


सेना के मुताबिक मारे गए 13 आतंकवादियों में से दो आतंकी लेफ्टिनेंट उमर फयाज की हत्या में शामिल थे. अनंतनाग जिले में एक आतंकवादी ने सुरक्षा बलों के समक्ष समर्पण भी किया है. सुरक्षाबलों के मुताबिक आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना पर दक्षिण कश्मीर में शनिवार रात से एक साथ तीन जगहों पर घेराबंदी और तलाशी अभियान चलाया गया. अनंतनाग जिले में तड़के हुई मुठभेड़ में जहां एक आतंकवादी मारा गया वहीं दूसरे ने आत्मसमर्पण कर दिया. शोपियां जिले के दो मुठभेड़ में 12 आतंकवादी मारे गए हैं.

जम्‍मू कश्‍मीर में अलगाववादी नेता का बेटा हुआ आतंकी संगठन में शामिल

इससे पूर्व अवंतिपुरा में विक्टर फोर्स मुख्यालय में बुलाए गए एक संवाददाता सम्मेलन में 15वीं कोर के कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने इसे हाल के समय में सबसे बड़ा अभियान करार दिया और कहा कि लेफ्टिनेंट उमर फय्याज का बदला ले लिया गया है. पिछले साल शोपियां में फय्याज की निर्मम हत्या कर दी गई थी. भट्ट ने कहा, 'मारे गए आतंकवादियों में इश्फाक मलिक और रईस ठोकर शामिल हैं. उनकी मौत के लिए वे जिम्मेदार थे.'

पिछले साल मई में आतंकवादियों ने फय्याज (22) की हत्या कर दी थी. दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले के हरमैन इलाके में उनका शव बरामद किया गया था, जिस पर गोलियों से हुए जख्म के निशान थे. डीजीपी ने एक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) के प्रयास का भी जिक्र किया. दायलगाम मुठभेड़ के दौरान एसएसपी ने एक आतंकवादी को आत्मसमर्पण करने के लिए राजी किया. शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा, 'मैं दायलगाम मुठभेड़ का खास जिक्र करना चाहूंगा जहां हमारे एसएसपी ने एक विशेष प्रयास किया, जैसा दुनिया में कहीं भी सुनने को नहीं मिलता है.' 

जम्‍मू-कश्‍मीर: दक्षिण कश्मीर में अलग- अलग मुठभेड़ों में दो शीर्ष कमांडरों सहित आठ आतंकवादी ढेर

टिप्पणियां

डीजीपी ने कहा, 'उन्होंने (एसएसपी ने) एक आतंकवादी के परिजन को फोन किया. उन्होंने उससे 30 मिनट तक बात की, ताकि उसे आत्मसमर्पण करने के लिए राजी किया जा सके.' उन्होंने कहा, 'दुर्भाग्यवश, उसने अपने परिजन की सलाह नहीं मानी. बातचीत के दौरान जिला एसएसपी ने उसे समझाने की कोशिश की. लेकिन उसने पुलिस पर फायरिंग कर दी, जिसके बाद पुलिस के पास पलटवार करने के सिवाय और कोई चारा नहीं था. वह मारा गया. एक अन्य जीवित पकड़ा गया.'

वैद्य ने कहा, 'मैं सभी माता- पिता से अपील करता हूं कि वे अपने बच्चों से हिंसा छोड़कर राष्ट्र की मुख्यधारा में शामिल होने का अनुरोध करें.'



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement