फ्रांस में हमला : सिरफिरे ने चर्च में एक महिला का सिर कलम करने के साथ दो अन्य को मार डाला, मेयर ने कहा-आतंकी घटना

France attack : पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर छिड़े विवाद के बीच इस तरह का यह दूसरा हमला है. फ्रांस के आतंकवाद रोधी अभियोजकों ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

फ्रांस में हमला : सिरफिरे ने चर्च में एक महिला का सिर कलम करने के साथ दो अन्य को मार डाला, मेयर ने कहा-आतंकी घटना

France में पिछले दस दिनों के भीतर यह दूसरा बड़ा हमला है

पेरिस:

फ्रांस (France) के शहर नीस (Nice) में गुरुवार को एक हमलावर ने चाकुओं से गोदकर तीन लोगों की जान ले ली. इनमें से एक महिला शामिल है, जिसका उसने सिर कलम कर दिया, जबकि कई अन्य हमले में घायल हो गए. पुलिस ने हमलावर को दबोच लिया है. नीस के मेयर ने इसे आतंकी हमला (Terrorist Attack) करार दिया है. मृतकों में (Notre Dame) चर्च की वार्डन भी शामिल है.

यह भी पढ़ें- फ्रांस: क्लासरूम में पैगम्बर का कार्टून दिखाने वाले शिक्षक की हत्या के मामले में नौ लोग गिरफ्तार

फ्रांस (France) में पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर छिड़े विवाद (Cartoon row) के बीच इस तरह का यह दूसरा हमला है. फ्रांस के आतंकवाद (Terrorism)  रोधी अभियोजकों ने मामले की जांच शुरू कर दी है. नीस (Nice) शहर के मेयर क्रिश्चियन एस्टरोसी ने इन्हें इस्लामिक फासीवादी हमला करार दिया है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने हमलावर को घेर लिया और उसे गोली मार दी, हमलावर लगातार अल्लाहू अकबर बोल रहा था, जब गिरफ्तारी के वक्त घायल होने के दौरान उसका इलाज किया जा रहा था. पुलिस सूत्रों ने कहा कि दो पीड़ितों की मौत बैसिलिका के नोत्रे दैम चर्च में हुई इस घटना में हुई, जबकि तीसरे घायल शख्स ने हमले के बाद एक जगह शरण ले रखी थी, लेकिन वहीं उसने दम तोड़ दिया. पुलिस के मुताबिक, स्थिति अब नियंत्रण में है.

यह भी पढ़ें- भारत ने कार्टून विवाद में मैक्रॉन पर निजी हमले की निंदा की, इमरान ने साधा था निशाना

इससे पहले फ्रांसीसी पुलिस ने स्कूल के पास एक शिक्षक की सिर कलम कर हत्या हुई थी. Gस मामले में नौ लोगों को गिरफ्तार किया है. हत्या 18 वर्षीय युवक द्वारा की गई थी, जिसे तब पेरिस के उत्तर-पश्चिम में कॉनफ्लैंस-सैंटे-होनोरिन में घटनास्थल के पास पुलिस ने गोली मार दी थी. बता दें कि राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोन ने इस घटना को इस्लामी आतंकवादी हमला करार दिया है.


शिक्षक सैमुअल पैटी की हुई थी हत्या
पुलिस ने कहा कि पीड़ित 47 वर्षीय इतिहास के शिक्षक सैमुअल पैटी थे, जिन्होंने अपने विद्यार्थियों को पैगंबर मोहम्मद के कुछ कार्टून अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता विषय पर चर्चा के दौरान दिखाए थे. इसके बाद कुछ छात्रों के माता-पिता ने शिक्षक की शिकायत की थी. संदिग्ध के दो भाइयों और उनके दादा-दादी को शुरू में पुलिस ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कार्टून का लंबा विवाद
यह हमला ऐसे वक्त में हुआ है जब चार्ली हेब्दो व्यंग्य पत्रिका के कार्यालय में जनवरी 2015 में हुए नरसंहार के मामले में मुकदमा चल रहा है. पत्रिका ने पैगंबर मोहम्मद के कैरिकेचर प्रकाशित किए गए थे. इससे इस्लामी दुनिया में गुस्से की लहर फैल गई थी. पत्रिका ने सितंबर में कार्टूनों को फिर से प्रकाशित किया और पिछले महीने एक युवा पाकिस्तानी व्यक्ति ने पत्रिका के पूर्व कार्यालय के बाहर दो लोगों को घायल कर दिया.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)