गुरुवार रहा इस मौसम का अबतक का सबसे गर्म दिन, तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा

राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को इस मौसम का सबसे अधिक तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने बताया कि हालांकि इस क्षेत्र में बढ़ रहे पश्चिमी विक्षोभ की वजह से अगले दो दिन में थोड़ी राहत मिल सकती है.

गुरुवार रहा इस मौसम का अबतक का सबसे गर्म दिन, तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा

राजधानी दिल्ली में चढ़ा तापमान

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को इस मौसम का सबसे अधिक तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग ने बताया कि हालांकि इस क्षेत्र में बढ़ रहे पश्चिमी विक्षोभ की वजह से अगले दो दिन में थोड़ी राहत मिल सकती है.राजधानी के सभी मौसम केंद्रों की अपेक्षा पालम वेधशाला में सबसे ज्यादा 44.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार शहर में मौसम को लेकर आंकड़ों का प्रतिनिधित्व करने वाली सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो कि सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस ज्यादा है.


भारत मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि अगले दो-तीन दिनों में लू वाली हवाएं नहीं चलने की संभावना है.अब तक शहर में लू भरी हवाएं नहीं चली हैं. मौसम विभागों ने लगातार पश्चिमी विक्षोभ के आने को इसके पीछे का कारण बताया है.व्यापक क्षेत्रों में जब तापमान लगातार दो दिन तक 45 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया जाता है तो उसे लू चलना घोषित किया जाता है, वहीं अगर लगातार दो दिन तक तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाए तो उसे गंभीर लू वाली श्रेणी में रखा जाता है. आईएमडी के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी जैसे अपेक्षाकृत छोटे क्षेत्रों में अगर तापमान एक दिन के लिए भी 45 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाए तो लू चलना घोषित किया जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:दिल्ली-NCR में गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद; कई जगह धूल भरी आंधी और बारिश



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)