NDTV Khabar

अखबारों की प्रमुख सुर्खियां : कुलभूषण जाधव को मौत की सजा पर संसद से सड़क तक गम और गुस्से का ज्वार

630 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अखबारों की प्रमुख सुर्खियां : कुलभूषण जाधव को मौत की सजा पर संसद से सड़क तक गम और गुस्से का ज्वार
नई दिल्ली:
टिप्पणियां
भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की मिलिट्री अदालत ने मौत की सजा दी है. इस पर भारत में तीखी प्रतिक्रिया हुई है. संसद में इस मामले पर गहरा रोष जाहिर किया गया है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को कठोर चेतावनी दी है. करीब सभी दैनिक अखबारों के बुधवार के अंक में यह समाचार प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है.

जाधव को फांसी तो भुगतेगा पाक     
दैनिक जागरण ने लिखा है कि कुलभूषण जाधव को मौत की सजा सुनाए जाने पर भारत में गम और गुस्से का ज्वार फूट पड़ा है. संसद से सड़क तक एक सुर में कुलभूषण के लिए न्याय की आवाज उठी. भारत ने उच्च राजनीतिक व कूटनीतिक स्तर पर इस फैसले पर न सिर्फ बेहद कड़ी प्रतिक्रिया जताई है, बल्कि चेतावनी भरे लहजे में संदेश दिया कि अगर जाधव को फांसी दी गई तो पाकिस्तान द्विपक्षीय रिश्तों पर अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे.
 
db

नवाज बोले हमारी सेना हर खतरे से लड़ने को तैयार है...  
दैनिक भास्कर ने सुषमा स्वराज की पाक को चेतावनी की खबर के साथ पाकिस्तान से मिली नवाज शरीफ की प्रतिक्रिया को भी समाचार में स्थान दिया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि हमारी सेना हर खतरे से लड़ने के लिए तैयार है. पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि फांसी की सजा के फैसले के खिलाफ अपील के लिए जाधव के पास 60 दिन हैं.
 
nd

कुलभूषण के लिए 'आउट ऑफ द वे' करेंगे काम
नईदुनिया ने सुषमा स्वराज के हवाले से लिखा है कि जाधव को फांसी दी तो अंजाम के लिए तैयार रहे पाक. विदेश मंत्री ने कहा है कि कुलभूषण के लिए आउट ऑफ द वे काम किया जाएगा. सुषमा स्वराज ने यह भी कहा है कि वे जाधव के माता-पिता के संपर्क में हैं.
 
au

एकजुट संसद ने की पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग
अमर उजाला में कुलभूषण से संबंधित खबर के साथ सुषमा स्वराज के उस बयान को खास तवज्जो देकर छापा गया है जिसमें उन्होंने कहा है कि जाधव को फांसी की सजा सुनाए जाने से पहले पाकिस्तान ने न्याय के सिद्धांत का मजा उड़ाया है. यह फैसला सुनियोजित हत्या है. अखबार ने राजनाथ सिंह, कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे और असदुद्दीन ओवैसी के बयानों को भी प्रमुखता से स्थान दिया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement