लाल चौक जा रहे भाजपा कार्यकर्ता सोते रहे, ट्रेन लौट गई

खास बातें

  • तिरंगा यात्रा में भाग लेने जा रहे कर्नाटक के 1800 पार्टी कार्यकर्ता रात ट्रेन में सोते रह गए और महाराष्ट्र पुलिस ने दिल्ली जाने वाली इस ट्रेन को वापस मोड़ दिया।
मुम्बई:

श्रीनगर के लालचौक पर गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने के भाजपा के कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे कर्नाटक के 1800 पार्टी कार्यकर्ता रात ट्रेन में सोते रह गए और महाराष्ट्र पुलिस ने दिल्ली जाने वाली इस ट्रेन को वापस मोड़ दिया। उनकी योजना को पटरी से उतारते हुए महाराष्ट्र प्रशासन ने बेंगलुरू से दिल्ली जाने वाली इस विशेष ट्रेन को देर रात के बाद ही वापस कर दिया। उस वक्त अधिकतर भाजपा कार्यकर्ता नींद में डूबे हुए थे। जब यह ट्रेन रात डेढ़ बजे अहमदनगर के पास दौंड स्टेशन पहुंची तब एक सुनियोजित योजना के तहत उसमें तीन और डिब्बे जोड़ दिए जिनमें महाराष्ट्र पुलिस के 200 जवान सवार थे। उसके बाद ट्रेन को सरोला कसार ले जाया गया जहां रेलवे ने घोषणा की इसे वापस बेंगलुरू ले जाया जा रहा है। ट्रेन में सवार कुछ यात्रियों को संदेह हुआ। दोबारा सोलापुर स्टेशन पर घोषणा सुनने के बाद कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ कुछ गरमागरम बहस हुई लेकिन तबतक काफी विलंब हो गया था। अहमदनगर के पुलिस अधीक्षक कृष्णा प्रकाश ने कहा, यह सच है कि हमने ट्रेन वापस कर दी क्योंकि हमें राज्य के गृह विभाग और रेलवे अधिकारियों का निर्देश था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com