NDTV Khabar

तीस हजारी कोर्ट में महिला डीसीपी पर टूट पड़े वकील, सर्विस रिवाल्वर भी छीनी, सामने आया VIDEO

दिल्ली पुलिस ने वकीलों की शिकायतों के आधार पर पांच मामले दर्ज किए हैं, लेकिन झड़प में घायल सभी 21 पुलिसकर्मियों के लिए सिर्फ एक मामला दर्ज किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तीस हजारी कोर्ट में महिला डीसीपी पर टूट पड़े वकील, सर्विस रिवाल्वर भी छीनी, सामने आया VIDEO

ये विवाद शनिवार को पार्किंग को लेकर शुरु हुआ था.

खास बातें

  1. महिला डीसीपी को घेरकर वकीलों ने की बदसलूकी
  2. जवानों ने जान जोखिम में डाल किसी तरह बचाया
  3. पुलिसकर्मियों का ऑडियो भी आया सामने, जिसमें सुनाई आपबीती
नई दिल्ली:

तीस हजारी कोर्ट कॉम्प्लेक्स (Tis Hazari Court Complex) में शनिवार को वकीलों और पुलिस के बीच हुई झड़प का एक और वीडियो सामने आया है. इसमें एक महिला पुलिस अधिकारी को कुछ पुलिसकर्मी वकीलों से बचाते दिख रहे हैं. महिला पुलिस अधिकारी डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज के तौर पर हुई है. डीसीपी ने आरोप भी लगाया है कि हिंसा के दौरान उसके साथ मारपीट की गई. इतना ही नहीं महिला अधिकारी ने यह भी कहा कि इस बीच उनकी सर्विस रिवाल्वर भी छीन ली गई और ये तब से लापता है. इस मामले में पुलिस प्रवक्ता अनिल मित्तल ने कहा है कि महिला अधिकारी का बयान घटना में तैयार की जा रही एफआईआर में जोड़ा जाएगा. 

इस सीसीटीवी फुटेज के साथ ही इस  पूरे मामले पर चर्चा करते हुए पुलिसकर्मियों का एक ऑडियो भी सामने आया है. इसमें वकीलों की बदसलूकी की दास्तां एक पुलिसकर्मी अपनी दूसरी सीनियर महिला पुलिस अधिकारी को बता रहा है.  पुलिसकर्मी ने बताया कि मैडम (डीसीपी मोनिका भारद्वाज) की पिस्तौल छीन ली गई और उन्हें बचाते हुए उसे सिर और कंधे में गंभीर चोटें आईं हैं. इसके अलावा उसने बताया कि महिला अधिकारी के साथ वकीलों ने धक्का-मुक्की और बदसलूकी की. 

वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच झड़प के दौरान तीसहजारी कोर्ट के लॉकअप में ही थे उन्नाव रेप के आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर


वीडियो में दिख रहा है कि महिला पुलिस अधिकारी का स्टाफ उन्हें जान पर खेलकर बाहर निकालकर ले जा रहा है. पुरुष वकीलों का झुंड उनके पीछे भाग रहा है. एक सादे कपड़ों में पुलिसकर्मी का हाथ एक वकील पकड़कर खींचता है लेकिन वह उसे झटककर किसी तरह डीसीपी मोनिका को निकालने में कामयाब हो जाता है. 

शनिवार को ये विवाद पार्किंग को लेकर शुरु हुआ था. इसके बाद हुई वकीलों और पुलिस की हिंसा में करीब 21 पुलिसकर्मी घायल हुए.  NDTV को कई सीसीटीवी फुटेज मिले हैं जिनमें देखा जा सकता है कि वकीलों ने पुलिसकर्मियों पर हमला किया और मोटरसाइकिलों में आग लगाने की कोशिश की. पुलिसकर्मी पानी से आग बुझाने की कोशिश करते नजर आ रहे हैं. 

टिप्पणियां

CCTV फुटेज में आग लगाते दिखे वकील, महिला IPS के साथ भी की मारपीट, चार दिन से गायब है अधिकारी की लोडेड सर्विस पिस्टल

दिल्ली पुलिस ने वकीलों की शिकायतों के आधार पर पांच मामले दर्ज किए हैं, लेकिन झड़प में घायल सभी 21 पुलिसकर्मियों के लिए सिर्फ एक मामला दर्ज किया है.  साकेत में सोमवार को एक अन्य अदालत में हुई घटना को लेकर भी मामला दर्ज किया गया है, जहां एक वकील ने मोटरसाइकिल पर बैठे पुलिसकर्मी को थप्पड़ मारा है. पुलिस मुख्यालय के बाहर एक दिन बाद सैकड़ों पुलिसकर्मियों ने विरोध प्रदर्शन किया और उनकी सुरक्षा में नाकाम रहने पर वरिष्ठ अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है. 

VIDEO: कैसे घिरी रहीं डीसीपी तीस हजारी कोर्ट में, जवानों ने बचाया



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement