BJP-Facebook मामला: TMC ने जुकरबर्ग को लिखी चिट्ठी, कहा- हमारे पास पर्याप्त सबूत

तृणमूल कांग्रेस ने फेसबुक (Facebook) के CEO मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) के समक्ष BJP के प्रति कथित झुकाव का मामला उठाते हुए दावा किया कि इस मामले में सार्वजनिक तौर पर पर्याप्त सबूत मौजूद हैं

BJP-Facebook मामला: TMC ने जुकरबर्ग को लिखी चिट्ठी, कहा- हमारे पास पर्याप्त सबूत

भाजपा फेसबुक मामला: तृणमूल ने जुकरबर्ग को लिखा पत्र

नई दिल्ली:

तृणमूल कांग्रेस ने फेसबुक (Facebook) के CEO मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) के समक्ष BJP के प्रति कथित झुकाव का मामला उठाते हुए दावा किया कि इस मामले में सार्वजनिक तौर पर पर्याप्त सबूत मौजूद हैं. पार्टी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन (Derek O'Brien) ने जुकरबर्ग को लिखे पत्र में उनके साथ पहले की मुलाकात का जिक्र भी किया, जिसमें इनमें से कुछ मामलों को उठाया गया था. इस पत्र की एक प्रति ‘पीटीआई-भाषा' के पास उपलब्ध है. पार्टी सूत्रों ने बताया कि ओ ब्रायन ने जुकरबर्गे से अक्टूबर 2015 में मुलाकात की थी.  ओ ब्रायन ने कहा, ‘‘भारत की दूसरी सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (AITMC) को भारत के 2014 और 2019 चुनाव में फेसबुक की भूमिका को लेकर गंभीर चिंताएं हैं,''

यह भी पढ़ें: आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मार्क जुकरबर्ग को पत्र लिखा, कहा - फेसबुक के कर्मचारी PM मोदी के प्रति अपशब्द कहते हैं

उन्होंने लिखा, ‘‘ भारत के राज्य पश्चिम बंगाल में चुनाव होने में करीब कुछ ही महीने पहले, आपकी कम्पनी के हाल ही में बंगाल में फेसबुक पेज और अकाउंट्स को ब्लॉक करना भी फेसबुक और भाजपा के बीच संबंध की ओर इशारा करता है. फेसबुक के वरिष्ठ प्रबंधन के आंतरिक ज्ञापन सहित सार्वजनिक तौर पर कई ऐसे सबूत मौजूद हैं, जो पक्षपात साबित करने को काफी हैं.'' राज्यसभा सांसद ने फेसबुक के CEO को यह भी बताया कि पार्टी ने यह मामला पिछले साल जून में संसद में भी उठाया था. 

डेरेक ओ ब्रायन (Derek O'Brien)  नेलिखा, ‘‘राष्ट्रपति के भाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान इस मामले को उठाया गया था, हम इस पत्र के साथ संसदीय कार्यवाही के उस संबंधित हिस्से का वीडियो भी भेज रहे हैं.'' ओ ब्रायन ने पत्र में कहा, ‘‘ हमें विश्वास है कि जिन मुद्दों और चिंताओं को हमने 14 महीने पहले संसद के पटल पर उठाया था, वे अन्य राजनीतिक दलों और मीडिया को भी यह महत्वपूर्ण मुद्दा उठाने की हिम्मत देंगे.''

यह भी पढ़ें: अमेरिकी अखबार का एक और खुलासा, फेसबुक इंडिया की पब्लिक पॉलिसी हेड अंखी दास को 'कठघरे' में खड़ा किया

Newsbeep

ओ ब्रायन ने पत्र में कुछ साल पहले जुकरबर्ग से हुई मुलाकात और इन मुद्दों में से कुछ पर अपनी चिंता व्यक्त करने का भी जिक्र किया और उनसे पारदर्शिता के हित में ‘‘ भारत के फेसबुक के वरिष्ठ प्रबंधन के खिलाफ इन गंभीर आरोपों की जांच करने का'' आग्रह किया. पत्र ने कहा, ‘‘ कृपया भारतीय चुनावी प्रक्रिया में अपने मंच की अखंडता को बनाए रखने के लिए तत्परता से काम करें.'' इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने भी जुकरबर्ग को इस संबंध में पत्र लिखा था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि हाल ही में ‘बीबीसी' ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल', ‘रॉयटर्स ' और ‘टाइम मैगजीन' ने खबरें प्रकाशित की थीं जिनमें दावा किया गया था कि फेसबुक की भारतीय इकाई के कुछ पदाधिकारियों ने भाजपा को फायदा पहुंचाया है. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)