यह ख़बर 12 जनवरी, 2014 को प्रकाशित हुई थी

कोल्हापुर में टोल बूथ पर तोड़फोड़, सीएम ने की शांति की अपील

मुंबई::

महाराष्ट्र के कोल्हापुर शहर में नौ सड़कों पर टोल संग्रह के खिलाफ आंदोलन ने रविवार को उस समय हिंसक रूप ले लिया, जब संदिग्ध शिवसेना कार्यकर्ताओं ने चार टोल बूथ पर तोड़फोड़ की।

इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने आंदोलनकारियों से शांत रहने की अपील की है।

चव्हाण ने कहा, 'मैं कोल्हापुर में स्थिति की निगरानी कर रहा हूं। मेरी उस पर नजर है। कानून-व्यवस्था भंग नहीं होनी चाहिए। हम टोल मुद्दे पर हल निकालने का प्रयास कर रहे हैं।'

इस बीच, पुलिस ने बताया कि कोल्हापुर में उसने बूथ पर तोड़फोड़ करने वाले कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है। इस हमले के लिए शिसैनिकों को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है।

पुलिस ने कहा कि बूथ पर हुए हमलों में किसी के भी घायल होने की सूचना नहीं है।

गौरतबलब है कि शहर के निवासी नौ सड़कों पर टोल संग्रहण के खिलाफ गत तीन वर्षों से आंदोलन कर रहे हैं।

एंटी टोल एक्शन कमेटी के 10 से अधिक सदस्य छह दिन पहले भूख हड़ताल पर बैठ गए थे। उनका कहना था कि वे अपनी भूख हड़ताल टोल संग्रहण वापस लेने से पहले समाप्त नहीं करेंगे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

महाराष्ट्र के गृह राज्य मंत्री सातेज पाटिल और श्रम मंत्री हसन मुशरिफ शनिवार को भूख हड़ताल पर बैठे कार्यकर्ताओं से मिलने गए थे और उन्हें भरोसा दिया था कि सरकार कंपनी को टोल संग्रहण रोकने के लिए कहेगी।

हालांकि इसके बावजूद रविवार की सुबह भी टोल बूथ पर संग्रहण जारी था, जिससे यहां हिंसा भड़क उठी।