NDTV Khabar

TOP 5 NEWS: योगी आदित्यनाथ और मायावती पर बड़ी कार्रवाई, आपत्तिजनक बयान पर घिरे आजम खान

बीजेपी उम्मीदवारों की एक और लिस्ट जारी, गोरखपुर से भोजपुरी अभिनेता रवि किशन को मैदान में उतारा, राहुल गांधी के बयान 'चौकीदार चोर है' पर सुप्रीम कोर्ट ने मांगा जवाब

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
TOP 5 NEWS: योगी आदित्यनाथ और मायावती पर बड़ी कार्रवाई, आपत्तिजनक बयान पर घिरे आजम खान

चुनाव आयोग ने मायावती और योगी आदित्यनाथ के चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी है.

खास बातें

  1. योगी आदित्यनाथ 72 घंटे और मायावती 48 घंटे तक नहीं कर सकेंगी चुनाव प्रचार
  2. जयाप्रदा ने मायावती से की अपील- मेरी मदद कीजिए, सपा से वापस लें समर्थन
  3. बीजेपी के नेता ने रैली में दी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को गाली
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की एक और लिस्ट जारी की है. बीजेपी ने अपनी 21वीं सूची में उत्तर प्रदेश की सात लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. पार्टी ने गोरखपुर से भोजपुरी अभिनेता रवि किशन (Ravi Kishan) को मैदान में उतारा है. लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए सभी पार्टियां पूरी ताकत झोंक रही है, मगर इस बीच योगी आदित्यनाथ और मायावती पर चुनाव आयोग का डंडा चला है. चुनाव आयोग ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बसपा प्रमुख मायावती को रैली और रोड शो करने पर बैन लगा दिया है. चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ को 72 घंटे और मायावती के 48 घंटे के लिए रैली और रोड शो करने पर रोक लगा दी है. राहुल गांधी के बयान 'चौकीदार चोर है' पर सुप्रीम कोर्ट कहा है कि उसने ऐसा कुछ नहीं कहा. राहुल गांधी से इस बारे में जवाब तलब किया गया है. राफेल मामले में पीएम मोदी पर टिप्पणी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी से जवाब मांगा है. उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के उम्मीदवार आजम खान (Azam Khan) के आपत्तिजनक बयान 'खाकी अंडरवियर' पर भाजपा (BJP) उम्मीदवार जयाप्रदा ने बसपा (BSP) प्रमुख मायावती से मदद की अपील की है. जयाप्रदा ने मायावती से अपील की है कि मेरी मदद कीजिए और सपा से समर्थन वापस लीजिए. आजम खान के आपत्तिजनक बयान को लेकर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है और महिला आयोग ने भी सख्ती दिखाते हुए उन्हें नोटिस जारी किया है. हिमाचल प्रदेश के बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती (Satpal Singh Satti) का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते नज़र आ रहे हैं.


बीजेपी की एक और लिस्ट, गोरखपुर से भोजपुरी अभिनेता रवि किशन को मैदान में उतारा
लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की एक और लिस्ट जारी की है. बीजेपी ने अपनी 21वीं सूची में उत्तर प्रदेश की 7 लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. खास बात यह है कि पार्टी ने गोरखपुर से भोजपुरी अभिनेता रवि किशन (Ravi Kishan) को मैदान में उतारा है. पहले उनके जौनपुर से चुनाव लड़ने की चर्चा थी. वहीं, हाल ही में 'जूता कांड' से चर्चा में आए शरद त्रिपाठी का टिकट काटकर संतकबीर नगर से  प्रवीण निषाद को मैदान में उतारा है. इसके अलावा प्रतापगढ़ से संगम लाल गुप्ता, अंबेडकर नगर से मुकुट बिहारी, देवरिया से रमापति राम त्रिपाठी, जौनपुर से केपी सिंह और भदोही से रमेश बिंद को टिकट दिया है.  आपको बता दें कि बीजेपी ने 2 दिन पहले ही लोकसभा चुनाव के लिए अपनी 20वीं सूची जारी की थी, जिसमें 6 प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया गया था.

ravi kishan

भारतीय जनता पार्टी की 20वीं सूची में हरियाणा के हिसार से बृजेंद्र सिंह को टिकट दिया गया. वहीं, रोहतक से अरविंद शर्मा को टिकट दिया गया है. वहीं मध्य प्रदेश में खजुराहो से बीजेपी ने बिष्णु दत्त शर्मा, रतलाम से जीएस दामोर, धार से छत्तर सिंह दरबार को टिकट दिया गया है. राजस्थान के दौसा से जसकौर मीणा को टिकट दिया गया. भोजपुरी अभिनेता रवि किशन 2014 के लोकसभा चुनाव में भी अपना भाग्य आजमा चुके हैं. पिछली बार वह कांग्रेस के टिकट पर उत्तर प्रदेश की जौनपुर सीट से चुनाव मैदान में उतरे थे, लेकिन मोदी लहर में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. जौनपुर से बीजेपी के केपी सिंह ने जीत दर्ज की थी. हाल ही में बीजेपी ज्वाइन करने के बाद चर्चा थी कि रवि किशन इस बार भी बीजेपी के टिकट पर जौनपुर से ही चुनाव लड़ेंगे, क्योंकि वे मूलरूप से जौनपुर के ही रहने वाले हैं, लेकिन पार्टी ने उन्हें सीएम योगी के गढ़ गोरखपुर से मैदान में उतारा है.


योगी आदित्यनाथ 72 घंटे और मायावती 48 घंटे तक नहीं कर सकेंगे चुनाव प्रचार
लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए सभी पार्टियां पूरी ताकत झोंक रही है, मगर इस बीच योगी आदित्यनाथ और मायावती पर चुनाव आयोग का डंडा चला है. चुनाव आयोग ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बसपा प्रमुख मायावती को रैली और रोड शो करने से से बैन कर दिया है. चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ को 72 घंटे और मायावती को 48 घंटे के लिए रैली और रोड शो करने पर बैन लगा दिया है. चुनाव आयोग का यह बैन 16 अप्रैल की सुबह 6 बजे से लागू होगा.

r3di96mg

बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ और मायावती को उनके भाषणों में आपत्तिजनक बयानों के जरिए आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिए ऐसा बन लगाया है. चुनाव आयोग ने इन दोनों को आचार संहिता के उल्लंघन में दोषी पाया है. बता दें कि चुनाव आयोग की यह बड़ी कार्रवाई ऐसे वक्त में आई है जब सुप्रीम कोर्ट ने एक दिन पहले ही पूछा था कि विद्वेष फैलाने वाले भाषणों को लेकर निर्वाचन आयोग ने अब तक क्या कार्रवाई की है.

राहुल गांधी के बयान 'चौकीदार चोर है' पर सुप्रीम कोर्ट ने किया जवाब तलब
राफेल मामले में पीएम मोदी (PM Modi) पर टिप्पणी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  से जवाब मांगा है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम ये साफ करना चाहते हैं कि उत्तरदाता ने जो कुछ सुप्रीम कोर्ट के हवाले से कहा है वो गलत है. कोर्ट ने ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की है. हम केवल दस्तावेज की एडमिसिबल्टिी पर फैसला करते हैं. कोर्ट ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से 22 अप्रैल तक जवाब देने को कहा है. अब मामले में अगली सुनवाई 23 अप्रैल को होगी.

3vulg4d

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने रफाल मामले में बीजेपी सासंद मीनाक्षी लेखी की याचिका पर सुनवाई की. मीनाक्षी लेखी ने राहुल गांधी के खिलाफ पीएम मोदी पर टिप्पणी पर अवमानना की याचिका दाखिल की है. मीनाक्षी लेखी ने अपनी याचिका में कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने रफाल मामले में पुनर्विचार याचिका की सुनवाई के दौरान केंद्र की प्रारंभिक आपत्ति खारिज करते हुए कहा था कि वो द हिंदू में छपे रक्षा दस्तावेज पर विचार करेगा, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट के हवाले से ये बयान दिया कि सुप्रीम कोर्ट ने भी माना है कि 'चौकीदार चोर' है. याचिका में कहा गया है कि कोर्ट ने आदेश में ऐसा कुछ नहीं है इसलिए ये कोर्ट की अवमानना है.


आजम खान का 'खाकी अंडरवियर' बयान: जयाप्रदा की मायावती से अपील, सपा से वापस लें समर्थन
उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के उम्मीदवार आजम खान (Azam Khan) के आपत्तिजनक बयान 'खाकी अंडरवियर' पर भाजपा (BJP) उम्मीदवार जयाप्रदा ने बसपा (BSP) प्रमुख मायावती से मदद की अपील की है. जयाप्रदा ने कहा कि मैं मायावती (Mayawati) से अपील करती हूं कि मेरी मदद कीजिए और मेरे लिए आवाज उठाएं. साथ ही जयाप्रदा (Jaya Prada) ने कहा कि मैं मायावती से अपील करती हूं कि समाजवादी पार्टी से समर्थन वापस लें. बता दें, आजम खान ने रविवार को जनसभा के दौरान कहा था, 'जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया... उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है.' हालांकि, उन्होंने इस बयान में जयाप्रदा का नाम नहीं लिया था. लेकिन उनका इशारा जयाप्रदा की तरफ ही समझा रहा है.

5b7ph7pg

आजम खान के इस बयान पर जयाप्रदा ने सोमवार को कहा, 'ये मेरे लिए कोई नई बात नहीं है, साल 2009 से ये झेल रही हूं. मैं काफी हिल गई हूं. अखिलेश बगल में बैठे हुए थे उन्होंने कुछ नहीं बोला. पहले मेरी अश्लील तस्वीरें बंटवाई थीं. मुझे डराने के लिए ये सब कर रहे हैं. मैं डरी नहीं हूं मैं रामपुर नहीं छोड़ने वाली हूं. पहले में डरती थी पर अब नहीं. अखिलेश आजम खान को पार्टी से निकालें. रामपुर की जनता मेरे साथ खड़ी है. पहले भी मुझे पार्टी से निकाला गया आजम खान को नहीं.'

टिप्पणियां

बीजेपी नेता ने रैली में दी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को गाली, VIDEO हो रहा वायरल
हिमाचल प्रदेश के बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती (Satpal Singh Satti) का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते नज़र आ रहे हैं. ये वीडियो रविवार का है जब सोलन में पार्टी के उम्मीदवार के लिए प्रचार करते वक़्त उन्होंने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया. सतपाल सिंह सत्ती ने पहले तो राहुल गांधी और उनके परिवार को ज़मानती बताया और कहा कि जो ख़ुद जमानत पर हो वो प्रधानमंत्री को चोर कैसे कह सकता है. इसके बाद उन्होंने सोशल मीडियो पर कथित तौर पर किसी शख़्स की टिप्पणी को पढ़ा जिसमें राहुल गांधी के लिए गाली का इस्तेमाल किया गया है.  

tp541k18


गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, नेताओं के बीच बदजुबानी भी बढ़ गई है. रामपुर से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आजम खान ने जयाप्रदा को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी. उन्होंने अपने बयान पर स्पष्टिकरण देते हुए कहा कि उन्होंने फिल्म अभिनेत्री और बीजेपी उम्मीदवार जयाप्रदा के खिलाफ किसी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की है. हालांकि उनके बयान पर विवाद बढ़ गया है और एफआईआर दर्ज हो गई है. दूसरी तरफ, जयाप्रदा ने बसपा (BSP) प्रमुख मायावती से मदद की अपील की है. जयाप्रदा ने कहा कि मैं मायावती (Mayawati) से अपील करती हूं कि मेरी मदद कीजिए और मेरे लिए आवाज उठाएं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement