NDTV Khabar

TOP 5 NEWS: कर्नाटक के CM कुमारस्वामी ने EVM पर उठाए सवाल और एग्जिट पोल के बाद मायावती से मिले अखिलेश यादव

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के मतगणना से पहले हुए एग्जिट पोल के नतीजों के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
TOP 5 NEWS: कर्नाटक के CM कुमारस्वामी ने EVM पर उठाए सवाल और एग्जिट पोल के बाद मायावती से मिले अखिलेश यादव

एग्जिट पोल परिणाम को लेकर कुमारस्वामी ने दिया बयान

नई दिल्ली:

Exit Poll Results 2019: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी के बाद अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी (HD Kumaraswamy) ने एग्जिट पोल पर सवाल उठाए हैं. कुमारस्वामी का कहना है कि एग्जिट पोल के जरिए भाजपा (BJP) छोटे दलों को 23 मई के नतीजों से पहले ही लुभा रही है. वहीं, लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के मतगणना से पहले हुए एग्जिट पोल के नतीजों के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की है. उत्तर प्रदेश में बसपा और सपा एकसाथ बीजेपी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. एग्जिट पोल के कुछ सर्वे ऐसे भी आए हैं, जिसमें सपा-बसपा के गठजोड़ को बीजेपी की बराबरी या एक-दो सीटें ज्यादा होने का दावा कर रहे हैं. उधर, लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019)  में लगभग सभी एग्जिट पोल एनडीए की सरकार बनने का दावा कर रहे हैं. एनडीटीवी के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स में भी बीजेपी की सरकार बनने के संकेत मिल रहे हैं. लेकिन इसी मुद्दे पर रवीश कुमार के प्राइम टाइम में सामाजिक कार्यकर्ता और पूर्व में चुनाव विशेषज्ञ योगेंद्र यादव ने भी दावा किया है कि इस बार नतीजों में हमें हैरान होने के लिए तैयार रहना चाहिए.

नमो टीवी को लेकर चुनाव आयोग सख्त, कंटेट पर तुरंत प्रभाव से लगाई रोक


वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का दक्षिण भारत के राज्य  केरल के वायनाड  से लड़ने का फैसला का कितना असर रहा है यह तो 23 मई को आने वाले नतीजे बताएंगे लेकिन एग्जिट पोल के नतीजे बता रहे हैं कि कांग्रेस को फायदा होता दिखाई दे रहा है. हालांकि यह असर केरल और तमिलनाडु तक ही सीमित है. उधर, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को चुनाव आयोग पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष आयोग का समर्पण जाहिर है. लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान वाले दिन गांधी ने चुनाव आयोग पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री मोदी की उत्तराखंड के केदारनाथ की यात्रा समेत अन्य उदाहरण गिनाए और चुनाव आयोग पर पक्षपात करने का आरोप लगाया.

1. कर्नाटक के CM कुमारस्वामी ने EVM पर उठाए सवाल, कहा- एग्जिट पोल से छोटे दलों को लुभा रही BJP

i4pcig8o

Exit Poll Results 2019: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी के बाद अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी (HD Kumaraswamy) ने एग्जिट पोल पर सवाल उठाए हैं. कुमारस्वामी का कहना है कि एग्जिट पोल के जरिए भाजपा (BJP) छोटे दलों को 23 मई के नतीजों से पहले ही लुभा रही है. वहीं ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) ने एक्जिट पोल को 'अटकलबाजी' करार देते हुए कहा था कि उन्हें ऐसे सर्वेक्षणों पर भरोसा नहीं क्योंकि इस 'रणनीति' का इस्तेमाल ईवीएम में 'गड़बड़ी' करने के लिए किया जाता है. बता दें, NDTV के पोल ऑफ पोल्स के अनुसार केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार की वापसी हो रही है. पोल ऑफ पोल्स के अनुसार बीजेपी गठबंधन को 300 से अधिक सीटें मिलती दिख रही हैं. वहीं, यूपीए 122 और अन्य 118 सीटों पर सिमटते दिख रहे हैं. 

2. चुनाव 2019: एग्जिट पोल के नतीजों के बाद मायावती से मिलने पहुंचे अखिलेश यादव, जानें क्या हैं इसके मायने

6p009u9g

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) के मतगणना से पहले हुए एग्जिट पोल के नतीजों के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की है. उत्तर प्रदेश में बसपा और सपा एकसाथ बीजेपी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. एग्जिट पोल के कुछ सर्वे ऐसे भी आए हैं, जिसमें सपा-बसपा के गठजोड़ को बीजेपी की बराबरी या एक-दो सीटें ज्यादा होने का दावा कर रहे हैं. वहीं, एबीपी न्यूज-निलसन के आंकड़े तो चौंकाने वाले हैं. इस सर्वे ने एग्जिट पोल में सपा-बसपा को 56 सीटें और बीजेपी को 22 सीटें मिलने का दावा किया है. ऐसे में मायावती का मतगणना से दो दिन पहले अखिलेश यादव से मिलना कुछ नया संकेत देते हुए मिल रहा है. फिलहाल केन्द्र की अगली सरकार के गठन के मकसद से गठबंधन बनाने की कवायद में तेलुगुदेशम पार्टी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू भी शनिवार शाम सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती से मिले. राजधानी के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से नायडू सीधे विक्रमादित्य मार्ग स्थित सपा कार्यालय के लिए रवाना हुए. सपा कार्यालय पहुंचने पर अखिलेश ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया. इस दौरान बडी संख्या में सपा के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे.

3.Exit Poll Results 2019 : प्राइम टाइम में बोले योगेंद्र यादव- 23 मई को हैरान होने के लिए तैयार रहिए

52rntcqo

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019)  में लगभग सभी एग्जिट पोल एनडीए की सरकार बनने का दावा कर रहे हैं. एनडीटीवी के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स में भी बीजेपी की सरकार बनने के संकेत मिल रहे हैं. लेकिन इसी मुद्दे पर रवीश कुमार के प्राइम टाइम में सामाजिक कार्यकर्ता और पूर्व में चुनाव विशेषज्ञ योगेंद्र यादव ने भी दावा किया है कि इस बार नतीजों में हमें हैरान होने के लिए तैयार रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश के एग्जिट पोल से कोई बड़ी हैरानी नहीं है क्योंकि वहां पहले से ही संकेत मिल रही थे कि वाईएसआर कांग्रेस वहां टीडीपी से अच्छा प्रदर्शन  कर रही है. लेकिन उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से जो संकेत मिल रहे हैं, वह हतप्रभ करने वाले हैं. उन्होंने कहा कि शुरू में ऐसा लगता था कि सपा और बीएसपी का गठबंधनबीजेपी को धराशायी कर देगा लेकिन ऐसा होते दिख नहीं रहा है. योगेंद्र यादव का मानना है कि या तो दोनों को बीच बराबर की लड़ाई होगी या फिर बीजेपी को ज्यादा सीटें आएं. उन्होंने कहा कि कागजों में बीजेपी कमजोर भले ही लग रही थी क्योंकि माना जा रहा था कि दलित+यादव+मुस्लिम वोट मिलकर बीजेपी पर भारी पड़ेंगे. लेकिन अब चुनाव के तरीके बदल गए हैं और केवल जातियों के दम पर चुनाव नहीं जीते जा सकते हैं. इसके लिए एक बड़ा सपना दिखाना पड़ता है, तस्वीर दिखानी पड़ती है जो महागठबंधन के पास नहीं थी. योगेंद्र का कहना था कि लोगों से बात करो तो कहेंगे  हां, या सब ठीक है यादव और मुस्लिम तो महागठबंधन को वोट दे ही रहा है लेकिन उसी यादव परिवार का कोई लड़का चुपचाप कहीं और वोट दे आता है. दलित समुदाय से कोई जाति कटकर कहीं और चली जाती है.


4. राहुल गांधी का केरल के वायनाड से '1 तीर से 130 निशाने' वाले दांव का कितना हुआ असर

g6mno5q

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का दक्षिण भारत के राज्य  केरल के वायनाड  से लड़ने का फैसला का कितना असर रहा है यह तो 23 मई को आने वाले नतीजे बताएंगे लेकिन एग्जिट पोल के नतीजे बता रहे हैं कि कांग्रेस को फायदा होता दिखाई दे रहा है. हालांकि यह असर केरल और तमिलनाडु तक ही सीमित है. एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्स के मुताबिक आंध्र प्रदेश की 25 सीटों में टीडीपी को 10, वाईएसआर कांग्रेस को 15, कांग्रेस और बीजेपी को कोई भी सीट मिलती नहीं दिखाई दे रही है. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में टीडीपी को 15, वाईएसआर कांग्रेस को 8, बीजेपी को 2 और कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली थी.  दक्षिण के इस राज्य में कांग्रेस को फायदा होते नहीं दिखाई दे रहा है. अब बात करें कर्नाटक की तो एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्स के मुताबिक राज्य की 28 सीटों में से सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस को 9, बीजेपी को 19 और अन्य के खाते में एक भी सीट नहीं जा रही है. साल 2014 के आंकड़ों से देखें तो इस चुनाव में बीजेपी को 17 और कांग्रेस को 9 औ जेडीएस को 2 सीटें मिली थीं. अब बात करें केरल की जहां के वायनाड सीट से राहुल गांधी ने चुनाव लड़ा था. एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्स के मुताबिक कांग्रेस गठबंधन को 14, वामदलों को 4, बीजेपी को 1 और अन्य के खाते में 1 सीट जाते दिखाई दे रही है. वहीं साल 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को 11, वामदलों को 7 और अन्य के खाते में एक सीट गई थी. 

टिप्पणियां


5. राहुल गांधी का चुनाव आयोग पर पक्षपात का आरोप, बोले- नमो टीवी से केदारनाथ के नाटक तक मिस्टर मोदी...

4ots5uu8

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को चुनाव आयोग पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष आयोग का समर्पण जाहिर है. लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान वाले दिन गांधी ने चुनाव आयोग पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री मोदी की उत्तराखंड के केदारनाथ की यात्रा समेत अन्य उदाहरण गिनाए और चुनाव आयोग पर पक्षपात करने का आरोप लगाया. गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘चुनावी बांड और ईवीएम से लेकर चुनाव के कार्यक्रम में छेड़छाड़ तक, नमो टीवी, ‘मोदीज आर्मी' और अब केदारनाथ के नाटक तक चुनाव आयोग का मिस्टर मोदी और उनके गैंग के समक्ष समर्पण सारे भारतीयों के सामने जाहिर है.'' उन्होंने लिखा, ‘‘चुनाव आयोग का डर रहता था और उसका सम्मान होता था. अब नहीं रहा.''



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement