NDTV Khabar

कश्‍मीर में अब घूमने जा सकेंगे सैलानी, 10 अक्‍टूबर से हट रही हैं पाबंदियां

अनुच्छेद 370 को हटाने की दिशा में सरकार ने कुछ दिन पहले से ही घाटी में राज्य में मौजूद सैलानियों को वापस भेजना शुरू कर दिया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्‍मीर में अब घूमने जा सकेंगे सैलानी, 10 अक्‍टूबर से हट रही हैं पाबंदियां

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. राज्यपाल ने दिया है निर्देश
  2. अनुच्छेद 370 को हटाने को लेकर लगीं थीं पाबंदियां
  3. 5 अगस्त को हटाया गया था अनुच्छेद 370
नई दिल्‍ली:

कश्मीर में धीरे-धीरे सामान्य होते जनजीवन के बीच अब यहां सैलानियों के आने पर लगी पाबंदियां हटने जा रही हैं.10 अक्टूबर से कश्मीर में सैलानी घूम सकेंगे. 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कई प्रावधानों के हटाए जाने के साथ ही यहां सैलानियों आने-जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था. सोमवार को राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने निर्देश दिया है कि गृह विभाग की सलाह है पर्यटकों के लिए घाटी से पाबंदियां हटा दी जाएं. यह 10.10.2019 से प्रभावी हो जाएगा.  

हिरासत के बाद पहली बार महूबबा मुफ्ती से कल मिलेगा PDP प्रतिनिधिमंडल, प्रशासन ने दी इजाजत

सत्य पाल मलिक ने सलाहकारों और मुख्य सचिव के साथ स्थिति और सुरक्षा समीक्षा बैठक भी की.  बैठक में योजना-आवास और शहरी विकास विभाग के प्रमुख सचिवों ने भी भाग लिया. यहां उन्हें खंड विकास परिषद (BDC) चुनावों के बारे में जानकारी दी गई. उन्हें सूचित किया गया कि बीडीसी चुनावों में सक्रिय रुचि दिख रही है और बीडीसी के अध्यक्षों की अधिकांश सीटें भरी जाएंगी.


रिपोर्ट में हुआ खुलासा: जम्मू कश्मीर में Article 370 हटाने के बाद 144 किशोर हिरासत में लिए गए

टिप्पणियां

बता दें अनुच्छेद 370 को हटाने की दिशा में सरकार ने कुछ दिन पहले से ही राज्य में मौजूद सैलानियों को वापस भेजना शुरू कर दिया था. इस दौरान घाटी में  बड़ी संख्या में श्रद्धालु अमरनाथ यात्रा के लिए पहुंचे थे और उन्हें बिना बाबा बर्फानी के दर्शन किए अपने गृह राज्यों में वापस लौटना पड़ा था. जम्मू-कश्मीर पर्यटन विभाग ने पर्यटकों को वापस श्रीनगर लाने के लिए विभिन्न स्थानों पर बसें भेजी थीं. इतना ही नहीं अमरनाथ के रास्ते से पर्यटकों को निकालने के लिए वायुसेना के विमानों को भी लगाया गया था. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement