NDTV Khabar

पश्चिमी यूपी में 4.0 तीव्रता वाले भूकंप के बाद दिल्ली-NCR में महसूस किए गए झटके- US भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण

संयुक्त राज्य भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के मुताबिक तजाकिस्तान में सुबह करीब 7:05 बजे 4.6 तीव्रता का भूकंप आया. इसके बाद दिल्ली से 90 किलोमीटर दूर यूपी के शामली जिले के कांधला में भी भूकंप आया.

129 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पश्चिमी यूपी में 4.0 तीव्रता वाले भूकंप के बाद दिल्ली-NCR में महसूस किए गए झटके- US भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली :

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शामली जिले और तजाकिस्तान में 4.0 तीव्रता वाले भूकंप (Earthquake) के बाद दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए है. संयुक्त राज्य भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के मुताबिक तजाकिस्तान में सुबह करीब 7:05 बजे 4.6 तीव्रता का भूकंप आया. इसके बाद दिल्ली से 90 किलोमीटर दूर यूपी के शामली जिले के कांधला में भी भूकंप आया. कांधला में भूकंप का केंद्र 10 किलोमीटर नीचे था. भूकंप के झटके महसूस करने के बाद लोगों ने टि्वटर पर ट्वीट करने शुरू कर दिए. कुछ ही मिनट बाद भूकंप टि्वटर पर सबसे ऊपर ट्रेंड करने लगा.

इससे पहले पिछले शनिवार की रात काठमांडू में भूकंप के मामूली झटके महसूस किए गये जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.0 मापी गई थी. गौरतलब है कि अप्रैल 2015 में देश में आए विनाशकारी भूकंप के बाद से लगातार इस तरह के मामूली झटके महसूस किए जा रहे हैं. राष्ट्रीय भूगर्भ अध्ययन केन्द्र के मुताबिक, भूकंप का केन्द्र काठमांडू के दक्षिण में स्थित था और यह रात 8.34 बजे आया.

जम्मू-कश्मीर में 5.6 तीव्रता के भूकंप के झटके, कई क्षणों तक कांपती रही धरती


काठमांडू से पहले 13 फरवीर को महाराष्ट्र और हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में भूकंप के झटके महसूस किए गए. महाराष्ट्र के पालघर जिले के कुछ इलाकों में 3.1 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किये गए थे. पालघर में बीते साल नवंबर से अब तक कई बार इस तरह के झटके महसूस किये जा चुके हैं. जिले के आपदा प्रकोष्ठ के एक अधिकारी ने बताया कि धुंदलवाडी गांव में दस किलोमीटर के इलाके में सुबह 10 बजकर 44 मिनट पर झटके महसूस किये गए, जहां करीब तीन हजार लोग रहते हैं. पालघर में इससे पहले एक रिपीट एक फरवरी को भी झटके महसूस किये गए थे.

दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई इलाकों में लगे भूकंप के झटके

वहीं, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में 3.5 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया था. हालांकि, इस दौरान वहां भी किसी तरह के नुकसान की कोई खबर नहीं मिली है. शिमला मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि भूकंप का केंद्र धर्मशाला शहर के उत्तर में जमीन से पांच किलोमीटर की गहराई पर था. उन्होंने बताया कि सुबह सात बजकर 35 मिनट पर कांगड़ा जिले के अधिकतर हिस्सों में 3.5 तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया. 

इंडोनेशिया 6.2 की तीव्रता से आया Earthquake, जानिए भूकंप आने पर क्या करें और क्या नहीं

टिप्पणियां

VIDEO- मुंबई के पास बार-बार भूकंप से दहशत

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement