भारत ने अटारी बॉर्डर पर फहराया सबसे ऊंचा तिरंगा, लाहौर से भी दिखेगा, पाकिस्तान की भौहें टेढ़ी

भारत ने अटारी बॉर्डर पर फहराया सबसे ऊंचा तिरंगा, लाहौर से भी दिखेगा, पाकिस्तान की भौहें टेढ़ी

अटारी बॉर्डर पर लहराता तिरंगा

अमृतसर:

पाकिस्तान से महज कुछ ही दूरी पर स्थित भारत-पाक अटारी सीमा पर रविवार को 360 फुट ऊंचे फ्लैगमास्ट का उद्घाटन किया गया. इसे देश का सबसे ऊंचा फ्लैगमास्ट कहा जा रहा है. पंजाब के मंत्री अनिल जोशी ने इस सबसे ऊंचे फ्लैगमास्ट पर देश का सबसे बड़ा तिरंगा फहराया. इसके निर्माण पर 3.50 करोड़ रुपये का खर्च आया है. यह पंजाब सरकार के अमृतसर सुधार न्यास प्राधिकरण की परियोजना थी. वहीं, बीएसएफ ने एलओसी के पास देश के सबसे ऊंचे तिरंगे को लेकर पाकिस्तान की आपत्तियों को खारिज कर दिया है. पाकिस्तान ने अटारी बॉर्डर के नजदीक फहराए गए 360 फीट ऊंचे तिरंगे पर ऐतराज जताया.
 

atari tricolour
(अटारी बॉर्डर पर लहराता तिरंगा)

जवाब में बीएसएफ का कहना है कि तिरंगा लाइन ऑफ कंट्रोल से 200 मीटर की दूरी पर है.

Newsbeep

बता दें कि 55 टन के पोल पर फहराए गए इस तिरंगे की ऊंचाई 360 फुट है. 120 गुना 80 फुट के तिरंगे का वजन 100 किलो है. अब यह लिम्का बुक में दर्ज होगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अटारी पर लगाए गए देश के सबसे ऊंचे तिरंगे से पाकिस्तान डर गया है. उसका कहना है कि इससे भारत जासूसी कर सकता है. यह तिरंगा इतना ऊंचा है कि लाहौर से भी नजर आएगा. अटारी बॉर्डर से लाहौर की दूरी करीब 21 किलोमीटर है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसके अलावा रांची में 293 फीट का तिरंगा लहराया गया. पुणे के कटराज लेक में 237 फीट का तिरंगा फहराया जा चुका है. फरीदाबाद में अमित शाह ने 250 फीट, रायपुर के तेलीबांध झील के पास 269 फीट और हैदराबाद के हुसैन सागर लेकर के पास 291 फीट का तिरंगा फहराया जा चुका है.
(इनपुट्स भाषा से)