NDTV Khabar

विपक्ष के 10 सितंबर को भारत बंद के आह्वान से तृणमूल कांग्रेस ने दूरी बनाई

ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक (एआईएफबी) ने भी विपक्षी पार्टियों के बंद से दूर रहने का फैसला किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विपक्ष के 10 सितंबर को भारत बंद के आह्वान से तृणमूल कांग्रेस ने दूरी बनाई

तृणमूल कांग्रेस 10 सितंबर को विपक्ष के भारत बंद को समर्थन नहीं देगी.

खास बातें

  1. तृणमूल नहीं चाहती कि बंद से जनजीवन प्रभावित हो
  2. बढ़ती कीमतों और रुपये के गिरते मूल्य के विरोध में प्रदर्शन करेगी टीएमसी
  3. माकपा के केन्द्रीय नेतृत्व ने बंद का समर्थन करने एआईएफबी से सहमति नहीं ली
कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि वह पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी जैसे मुद्दों को उठाती रहेगी, लेकिन विपक्षी पार्टियों के 10 सितंबर के भारत बंद को अपना समर्थन देने से इनकार कर दिया.

पार्टी महासचिव पार्था चटर्जी ने कहा कि इसके बजाय तृणमूल कांग्रेस उस दिन पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस जैसी आवश्यक वस्तुओं की बढ़ती कीमतों और रुपये के गिरते मूल्य के विरोध में समूचे राज्य में प्रदर्शन करेगी. चटर्जी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमलोग हड़ताल का विरोध नहीं कर रहे हैं और न ही हम इसमें हिस्सा ले रहे हैं.’’ उन्होंने कहा कि तृणमूल नहीं चाहती कि इससे जनजीवन प्रभावित हो. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : सितंबर में तीसरी बार होगा भारत बंद, शक्ति प्रदर्शन के लिए संगठनों में मची होड़

ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक (एआईएफबी) ने भी विपक्षी पार्टियों के बंद से दूर रहने का फैसला किया है. उसने आरोप लगाया है कि प्रमुख सहयोगी दल माकपा के केन्द्रीय नेतृत्व ने बंद का समर्थन करने पर फैसला लेने से पहले उसके साथ विचार-विमर्श नहीं किया.    
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement