जिस जगह हुई BJP की रैली, उसे TMC कार्यकर्ताओं ने गंगाजल और गाय के गोबर से किया 'पवित्र'

स्थानीय टीएमसी नेता पंकज घोष ने बताया कि भाजपा नेता यहां आए थे और उन्होंने सांप्रदायिक संदेश दिया, जिसके बाद इस जगह को 'पवित्र' करना पड़ा.

जिस जगह हुई BJP की रैली, उसे TMC कार्यकर्ताओं ने गंगाजल और गाय के गोबर से किया 'पवित्र'

गंगाजल का छिड़काव करते टीएमसी कार्यकर्ता

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिले में जिस जगह पर भारतीय जनता पार्टी की रैली थी, उस जगह को तृणमूल कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गंगा जल और गाय के गोबर से 'पवित्र' किया है. स्थानीय टीएमसी नेता पंकज घोष ने बताया कि भाजपा नेता यहां आए थे और उन्होंने सांप्रदायिक संदेश दिया, जिसके बाद इस जगह को 'पवित्र' करना पड़ा. स्थानीय देवता का जिक्र करते हुए टीएमसी नेता ने कहा, 'यह जगह भगवान मदन मोहन की है. इसलिए हिंदू परंपरा के मुताबिक हमने इस जगह को पवित्र किया.' कूच बिहार टीएमसी समर्थकों ने साथ ही यह दावा भी किया कि इस जिले में भगवान मदन मोहन के अलावा और किसी का रथ नहीं निकाला जा सकता.

बता दें, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की 7 दिसंबर को कूच बिहार, 9 दिसंबर को साउथ 24 परगना और 14 दिसंबर को बीरभूम में रथ यात्रा निकालने की योजना थी. इसके जरिए उनका राज्य में 42 लोकसभा सीटों को कवर करने का प्लान था. इसके साथ ही पार्टी की योजना थी कि इस यात्रा के संपन्न होने पर कोलकाता में पीएम नरेंद्र की विशाल रैली का आयोजन किया जाएगा. लेकिन प्रशासन की ओर से अमित को रथ यात्रा की मंजूरी नहीं मिल पाई. 

बंगाल में भाजपा नेता का विवादित बयान, कहा - ‘रथ यात्रा' रोकने वाले कुचले जाएंगे

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को भाजपा की 'रथ यात्रा' को 'रावण यात्रा' बताते हुए उसका मजाक उड़ाया था. साथ ही उन्होंने इसे एक राजनीतिक हथकंड़ा करार दिया था. 

सीएम बनर्जी ने कहा था, 'मैंने मेरे पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि जहां-जहां से रथ गुजरे, उसे जगह का शुद्धिकरण किया जाए. पांच सितारा सुविधाओं से लैस रथ में यह कैसी यात्रा है. यह रावण यात्रा है, न की रथ यात्रा.'

अमित शाह का ममता बनर्जी पर हमला: जोर लगा लीजिए, हम रथ यात्रा तो निकालकर रहेंगे और ईंट से ईंट बजा देंगे

बंगाल में रथयात्रा तो होकर रहेगी : अमित शाह

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com