NDTV Khabar

त्रिपुरा के CM बिप्लब देब का दावा, महाभारत युग में भी थी इंटरनेट की सुविधा

बिप्लब देब ने कहा कि यह सब मेरे देश में पहली बार नहीं हो रहा है. यह वह देश है, जिसमें महाभारत के दौरान संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर धृतराष्ट्र को बताया था कि कुरुक्षेत्र के मैदान में युद्ध में क्या हो रहा है.

10.6K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
त्रिपुरा के CM बिप्लब देब का दावा, महाभारत युग में भी थी इंटरनेट की सुविधा

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब.

खास बातें

  1. त्रिपुरा के मुख्यमंत्री ने एक कार्यक्रम में दिया बयान
  2. बोले-महाभारत काल में भी तकनीकी सुविधाएं थीं
  3. बिप्लब देब मार्च महीने में त्रिपुरा के सीएम बने हैं
अगरतला: BJP नेता और त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने सूचना-प्रौद्योगिकी सुविधाओं को लेकर चौंकाने वाला एक बयान दिया है. राजधानी अगरतला में मंगलवार को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के कंप्यूटराइज़ेशन पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि देश में महाभारत युग में भी तकनीकी सुविधाएं उपलब्ध थीं, जिनमें इंटरनेट और सैटेलाइट भी शामिल थे.

बिप्लब देब ने कहा कि यह सब मेरे देश में पहली बार नहीं हो रहा है. यह वह देश है, जिसमें महाभारत के दौरान संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर धृतराष्ट्र को बताया था कि कुरुक्षेत्र के मैदान में युद्ध में क्या हो रहा है. संजय इतनी दूर रहकर आंख से कैसे देख सकते हैं, सो, इसका मतलब है कि उस समय भी तकनीक, इंटरनेट और सैटेलाइट था.

यह भी पढ़ें : बिप्लब देब का संघ से रहा है पुराना नाता, जानिये उनके बारे में सब कुछ

उन्होंने कहा कि बीच में बहुत कुछ बदलाव आया है, लेकिन उस जमाने में भी तकनीक थी. मैं आपको अच्छे काम के लिए बधाई देता हूं, लेकिन इन सुविधाओं का आविष्कार आपने नहीं किया है. बिप्लब देब ने कहा कि मैं गर्व महसूस करता हूं कि मेरा जन्म ऐसे देश में हु्आ, जो तकनीक की दुनिया में आगे था. आज भले ही यूरोप-अमेरिका तकनीक के आविष्कारों का दावा करें, लेकिन इसके जनक हम हैं. तकनीक और संस्कृति में कोई समृद्ध है, तो वह भारत है.

PA से CM तक का सफर...
पिछले महीने ही बिप्लब देब की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी, यानी BJP ने त्रिपुरा में इतिहास रचा था और 25 वर्ष से सत्ता में काबिज लेफ्ट पार्टी को हराकर सरकार बनाई थी. त्रिपुरा के 10वें मुख्यमंत्री बिप्लब देब के यहां तक पहुंचने की कहानी भी खासी दिलचस्प है. त्रिपुरा के उदयपुर (वर्तमान में गोमती) जिले में जन्मे बिप्लब देब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, यानी RSS से जुड़े रहे हैं. वह लंबे समय तक BJP सांसद गणेश सिंह के पीए भी रहे हैं.

टिप्पणियां
VIDEO : बिप्लब देव ने त्रिपुरा के CM पद की ली शपथ


कहा जाता है कि उन्हें एक समय RSS का थिंक टैंक माने जाने वाले नेता गोविंदाचार्य से ट्रेनिंग मिली. बिप्लब देब वर्ष 1998 से 2015 तक दिल्ली में रहे और 2015 में उन्हें त्रिपुरा भेजा गया. बेहद कम समय में उन्होंने अपने काम की बदौलत RSS और BJP नेताओं का ध्यान अपनी ओर खींच लिया. जनवरी, 2016 में उन्हें प्रदेशाध्यक्ष बना दिया गया और इस साल BJP को विधानसभा चुनाव में जीत दिलाकर उन्होंने करिश्मा कर दिखाया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement