'जाटों के पास कम दिमाग, नहीं कर सकते बंगालियों का मुकाबला' त्रिपुरा CM के बयान पर बवाल

अपने बयानों की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहने वाले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब (Biplab Kumar Deb)  एक बार फिर चर्चा में बने हुए हैं.

'जाटों के पास कम दिमाग, नहीं कर सकते बंगालियों का मुकाबला' त्रिपुरा CM के बयान पर बवाल

अपने बयान की वजह से एक बार फिर विवादों में नजर आ रहे हैं CM Biplab Kumar Deb

नई दिल्ली:

अपने बयानों की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहने वाले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब (Biplab Kumar Deb)  एक बार फिर चर्चा में बने हुए हैं. इस बार उन्होंने देश के अलग-अलग हिस्सों के लोगों के बारे में अपनी टिप्पणी दी है. हरियाणा के जाटों से लेकर पश्चिम बंगाल के बंगालियों तक के बारे में उन्होंने अपनी राय रखी. एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने जाटों का जिक्र करते हुए कहा कि लोग जाटों के बारे में कैसे बात करते हैं. वे कहते हैं, जाट कम बुद्धिमान होते हैं, लेकिन शारीरिक रूप काफी स्वस्थ होते हैं. सीएम देब (Biplab Kumar Deb) के अनुसार हरियाणा के जाट बुद्धिमानी में बंगालियों का मुकाबला नहीं कर सकते हैं, बंगाली पूरी दुनिया में अपने तेज दिमाग के लिए जाने जाते हैं. 

मुख्यमंत्री बिप्लब का 50 सेकंड का एक वी़डियो कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया और लिखा भाजपा की मानसिकता. 
 

उन्होंने लिखा कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता बिप्लब कुमार देब ने पंजाब के सिख भाइयों और हरियाणा के जाट समुदाय को लेकर जो टिप्पणी की है वह उनकी निम्न स्तरीय मानसिकता को दर्शाती है. उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री और उनके डिप्टी का जिक्र करते हुए पूछा. खट्टरजी और दुष्यंत चौटाला चुप्प (चुप) क्यों हैं?" सुरजेवाला ने कहा कि मोदी जी और नड्डा जी (बीजेपी अध्यक्ष) कहां हैं. इन पर कार्रवाई करें. 

Newsbeep

यह पहला मौका नहीं है. इससे पहले भी बिप्लब कुमार देब कई बार अपने बयानों की वजह से विवादों का कारण बन चुके हैं. 
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com