ट्रंप का समर्थन करने वाली QAnon कॉन्सपिरेसी थ्योरी से जुड़े 70,000 अकाउंट Twitter ने किए सस्पेंड

सोशल मीडिया कंपनी Twitter ने ट्रंप समर्थक QAnon conspiracy थ्योरी से जुड़े '70,000 से ज्यादा' ट्विटर हैंडल्स को निलंबित कर दिया है.

ट्रंप का समर्थन करने वाली QAnon कॉन्सपिरेसी थ्योरी से जुड़े 70,000 अकाउंट Twitter ने किए सस्पेंड

कैपिटॉल भवन पर हिंसा के बाद ट्विटर ने उठाए बड़े कदम.

खास बातें

  • कैपिटॉल बिल्डिंग में हिंसा के बाद ट्विटर ने उठाए बड़े कदम
  • ट्रंप समर्थक QAnon से जुड़े हजारों अकाउंट निलंबित
  • ट्रंप का अकाउंट पहले से ही है सस्पेंड
नई दिल्ली:

सोशल मीडिया कंपनी Twitter ने सोमवार को घोषणा की है कि उसने ट्रंप समर्थक QAnon conspiracy थ्योरी से जुड़े '70,000 से ज्यादा' ट्विटर हैंडल्स को निलंबित कर दिया है. प्लेटफॉर्म का यह कदम पिछले हफ्ते अमेरिकी संसद भवन कैपिटॉल बिल्डिंग में ट्रंप समर्थकों की ओर से की गई हिंसा के बाद आया है. 

ट्विटर ने कैपिटॉल बिल्डिंग में हिंसा के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट को भी अनिश्चितकाल के लिए बैन कर दिया था. ट्रंप के हैंडल को भड़काऊ ट्वीट और हिंसा फैलने के डर से सस्पेंड किया गया था, ऐसा माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने कहा था. 


इसके बाद ट्विटर ने एक ब्लॉग पोस्ट में बताया है कि 'शुक्रवार के बाद से हमारी कोशिशों के चलते, 70,000 से ज्यादा अकाउंट्स को सस्पेंड किया जा चुका है, जिसमें कई मामले ऐसे थे, जहां एक ही व्यक्ति कई अकाउंट चला रहा था.' साइट ने ब्लॉग में लिखा कि 'ये अकाउंट नुकसान पहुंचाने वाले QAnon से जुड़ी सामग्री शेयर करने बड़े स्तर पर लिप्त पाए गए थे और इस कॉन्सपिरेसी थ्योरी से जुड़ी चीजें पूरे प्लेटफॉर्म पर फैला रहे थे.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि 20 जनवरी को जो बाइडेन के शपथग्रहण के पहले हिंसा फैलने से बचाव के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स बड़े कदम उठा रहे हैं. ट्विटर सहित फेसबुक और इंस्टाग्राम ने भी ट्रंप के अकाउंट को निलंबित कर रखा है. वहीं, ट्रंप को समर्थन देने वाले इस दक्षिणपंथी संगठन के खिलाफ भी सोशल मीडिया कंपनियां सख्ती दिखा रही हैं.