RSS कार्यकर्ता की हत्या के आरोप में दो गिरफ्तार, एक अन्य आरोपी की तलाश जारी

आरोपी के अनुसार आरएसएस कार्यकर्ता उसकी बेटी को बीते कई महीनों से परेशान कर रहा था, इसी वजह से उसने उसकी हत्या कर दी.

RSS कार्यकर्ता की हत्या के आरोप में दो गिरफ्तार, एक अन्य आरोपी की तलाश जारी

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में एक आरएसएस कार्यकर्ता पकंज की हत्या के आरोप में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी की पहचान कवरपाल और मोनू के रूप में की है. आरोपी कवरपाल ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि उसने अपने बेटे मोनी और भाई प्रमोद के साथ मिलकर इस हत्या को अंजाम दिया था. मुख्य आरोपी के अनुसार आरएसएस कार्यकर्ता उसकी बेटी को बीते कई महीनों से परेशान कर रहा था, इसी वजह से उसने उसकी हत्या कर दी.

यूपी के गाजीपुर में RSS कार्यकर्ता और स्थानीय पत्रकार राजेश मिश्रा की हत्या

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने पत्रकारों को बताया कि कवरपाल और मोनू को तितावी पुलिस थाना क्षेत्र के करवारा गांव से रविवार रात गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने हत्या के लिए इस्तेमाल किए गए हथियार को भी बरामद कर लिया गया है. पंकज की शनिवार को हत्या कर दी गई थी. पुलिस दूसरे आरोपी प्रमोद की भी तलाश कर रही है. गौरतलब है कि आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले केरल के त्रिसूर जिले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

केरल जैसी हिंसा बीजेपी शासित राज्य में होती तो अवॉर्ड वापसी शुरू हो जाती : जेटली

पी. आनंद नामक इस शख्स पर आरोप था कि उसने 2014 में माकपा के एक कार्यकर्ता की हत्या की थी. वह इस समय इस मामले में जमानत पर बाहर था. पुलिस ने बताया था कि त्रिसूर जिले में आनंद बाइक पर जा रहा था, तभी एक कार ने उसे टक्कर मार दी. इसके बाद कार से कुछ लोग बाहर आए और उन्होंने आनंद पर धारदार हथियार से हमला कर दिया. उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई. पुलिस ने कहा कि वे आरोपियों की पहचान करने और उन्हें पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने एनडीटीवी से कहा था कि हम अभी ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते हैं और न ही इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि इस हत्या में कोई राजनीतिक एंगल है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)