NDTV Khabar

BJP के दो विधायकों के कमलनाथ सरकार को एक बिल पर समर्थन देने के बाद कांग्रेस का दावा- और भी हैं संपर्क में...

मध्य प्रदेश विधानसभा में बुधवार को एक विधेयक पर मतविभाजन के दौरान विपक्षी दल भाजपा के दो विधायकों द्वारा कांग्रेस सरकार का समर्थन किए जाने के बाद कांग्रेस ने शाम को दावा किया कि भाजपा के कुछ और विधायक मुख्यमंत्री कमलनाथ के संपर्क में हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
BJP के दो विधायकों के कमलनाथ सरकार को एक बिल पर समर्थन देने के बाद कांग्रेस का दावा- और भी हैं संपर्क में...

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ.(फाइल फोटो)

भोपाल :

मध्य प्रदेश विधानसभा में बुधवार को एक विधेयक पर मतविभाजन के दौरान विपक्षी दल भाजपा के दो विधायकों द्वारा कांग्रेस सरकार का समर्थन किए जाने के बाद कांग्रेस ने शाम को दावा किया कि भाजपा के कुछ और विधायक मुख्यमंत्री कमलनाथ के संपर्क में हैं. प्रदेश सरकार के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने विधानसभा में मतविभाजन के बाद पत्रकारों से बातचीत में दावा किया, 'भाजपा के कुछ और विधायक भी मुख्यमंत्री कमलनाथ के संपर्क में हैं और बाउंड्री पर बैठे हैं.' शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज साबित कर दिया कि कांग्रेस सरकार पूरे पांच साल चलेगी बल्कि उसके आगे भी चलेगी. मंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि पूर्व मंत्री एवं भाजपा नेता नरोत्तम मिश्रा कांग्रेस विधायकों को करोड़ों की पेशकश कर रहे हैं, लेकिन वे हिलेंगे नहीं.

यह भी पढ़ें: कमलनाथ का 'शक्ति परीक्षण': BJP की 'धमकी' बेअसर- उसी के दो विधायकों ने इस बिल पर दिया सरकार का साथ


मत विभाजन में कांग्रेस के पक्ष में मतदान करने वाले भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल क्या कांग्रेस में शामिल हो गए हैं, के सवाल पर शर्मा ने कहा कि उन्होंने हमारा समर्थन किया है वह कांग्रेस के साथ हैं. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे पार्टी के सदस्य हैं या नहीं.

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश विधानसभा में BJP नेता गोपाल भार्गव बोले- हमारे नंबर-1 और नंबर-2 कह देंगे तो एक दिन भी नहीं चलेगी ये सरकार

टिप्पणियां

इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने त्रिपाठी और कोल का स्वागत किया और इसे उनकी 'घर वापसी' करार दिया. सिंधिया ने ट्वीट किया, 'मध्य प्रदेश विधानसभा में आज दंड विधि संशोधन विधेयक पर मत विभाजन में भाजपा के दो विधायकों नारायण त्रिपाठी (मैहर) शरद कौल (ब्यौहारी) ने कांग्रेस के पक्ष में मतदान कर सरकार की नीतियों से सहमति जताई है. साथ ही बार-बार अल्पमत की सरकार कहने वाले भाजपा के नेताओं को आइना भी दिखाया है.'

VIDEO: मध्य प्रदेश में एक बिल पर कमलनाथ के साथ आए 122 विधायक​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement