NDTV Khabar

कर्नाटक में हो सकते हैं दो उप मुख्यमंत्री, एचडी कुमारस्वामी अकेले लेंगे शपथ

कर्नाटक की गठबंधन सरकार में कांग्रेस को मिल सकते हैं कई अहम मंत्रालय, एचडी कुमारस्वामी की कांग्रेस के साथ बैठक सोमवार को

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कर्नाटक में हो सकते हैं दो उप मुख्यमंत्री, एचडी कुमारस्वामी अकेले लेंगे शपथ

कुमारस्वामी सोमवार को राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे.

खास बातें

  1. सरकार में दोनों दलों के अधिकारों के बंटवारे की रूपरेखा तैयार की गई
  2. मंत्रिमंडल में पोर्टफोलियो को अंतिम रूप देना शेष
  3. डीके शिवकुमार बनाए जा सकते हैं कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष
नई दिल्ली:

कर्नाटक में संभवत: एक नहीं बल्कि दो उप मुख्यमंत्री होंगे. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जी परमेश्वर ने यह बात कही है. इसके बारे में अंतिम निर्णय कांग्रेस का केंद्रीय नेतृत्व लेगा. गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी सोमवार को कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से मुलाकात करेंगे.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार ने कहा है कि जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) के नेता कुमारस्वामी बुधवार को अकेले ही पद की शपथ लेंगे. मंत्रिमंडल के शेष सदस्य बहुमत साबित करने के लिए होने वाले शक्ति परीक्षण के पश्चात शपथ लेंगे. उनके गुरुवार को शपथ ग्रहण करने की संभावना है. जी परमेश्वर के डिप्टी सीएम बनने के बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष का पद डीके शिवकुमार को दिए जाने की चर्चा चल रही है.     

यह भी पढ़ें : कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन को शाह ने बताया ‘अपवित्र’, बोले- ऐसी सरकारें ज्यादा दिन नहीं चलती


कर्नाटक के चुनाव में मतगणना के दिन अंतिम क्षण में कांग्रेस और जनता दल के बीच हुए समझौते के तहत कांग्रेस ने उप मुख्यमंत्री पद अपने पास रखा और इसके लिए संभावित नाम जी परमेश्वर का सामने आया. सरकार में शामिल दोनों दलों के बीच संतुलन बनाने की कवायद जारी है. जेडीएस ने दो उप मुख्यमंत्री बनाए जाने से इनकार नहीं किया है.  
        
राहुल और सोनिया गांधी के साथ बैठक के बाद कुमारस्वामी के तिरुमाला जाने की संभावना है. वे वहां तिरुपति में भगवान बालाजी के मंदिर जाकर आशीर्वाद लेंगे.

यह भी पढ़ें : कर्नाटक : जी परमेश्वर को राजीव गांधी की प्रेरणा ले आई राजनीति में, अब बन सकते हैं डिप्टी सीएम

शनिवार की रात, एक महत्वपूर्ण बैठक में, कांग्रेस और जेडीएस ने सरकार में अधिकारों को साझा करने की रूपरेखा को अंतिम रूप दिया. कुमारस्वामी की पार्टी जेडीएस के 38 की तुलना में 78 सीटें जीतने वाली कांग्रेस को मंत्रालयों के बंटवारे में अहम हिस्सा मिलेगा. पोर्टफोलियो को लेकर फिलहाल अंतिम फैसला नहीं लिया गया है.

कुमारस्वामी ने एनडीटीवी को बताया कि दोनों दल कर्नाटक में एक साझा न्यूनतम कार्यक्रम के तहत सरकार चलाने पर सहमत हुए हैं. दोनों एक गठबंधन समन्वय समिति का गठन करने के लिए भी सहमत हुए हैं.

यह भी पढ़ें : कर्नाटक : बीएस येदियुरप्पा के लिए तीसरी बार भी मुख्यमंत्री की कुर्सी बेवफा साबित हुई

बीजेपी की बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली सरकार बहुमत हासिल न कर पाने के कारण गिर गई और उन्हें इस्तीफा देना पड़ा. येदियुरप्पा ने शनिवार को कहा था कि राज्य में जल्द ही चुनाव हो सकता है. बीजेपी के विधायक आनंद कुमार ने कहा है कि ''चुनाव में हम मजबूती के साथ उभरे और केवल बीजेपी को जनादेश दिया गया, लेकिन कांग्रेस ने अवसरवादी अपवित्र गठबंधन कर लिया है.''  

टिप्पणियां

VIDEO : कर्नाटक में हो सकते हैं दो डिप्टी सीएम

कर्नाटक के राज्यपाल वीजूभाई वाला ने राज्य में 104 सीटें जीतने वाली सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था. दूसरी तरफ जेडीएस और कांग्रेस ने गठबंधन किया और दोनों मिलकर बहुमत में आ गए. इस तरह गठबंधन सरकार के गठन के लिए उन्होंने दावा किया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement