'ईर्ष्‍यालु नहीं लेकिन..' : इंडस्‍ट्री को लुभाने के लिए योगी आदित्‍यनाथ की मुंबई यात्रा को लेकर बोले उद्धव ठाकरे

आदित्‍यनाथ आज देर शाम मुंबई पहुंचेंगे वे 'मेक इन उत्‍तर प्रदेश' कैम्‍पेन का हिस्‍सा बनने के लिए राज्‍य के उद्यमियों को प्रेरित करेंगे.

'ईर्ष्‍यालु नहीं लेकिन..' : इंडस्‍ट्री को लुभाने के लिए योगी आदित्‍यनाथ की मुंबई यात्रा को लेकर बोले उद्धव ठाकरे

उद्योग जगत को लुभाने के लिए यूपी के सीएम मुंबई जाएंगे

खास बातें

  • उद्योगों को लुभाने मुंबई की यात्रा करेंगे यूपी के सीएम आदित्‍यनाथ
  • इस बारे में महाराष्‍ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने दी तल्‍ख प्रतिक्रिया
  • कहा, अगर आप जबरन चीज ले जाना चाहेंगे तो ऐसा नहीं होंने दूंगा
मुंबई/लखनऊ:

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) बुधवार का अपना दिन मुंबई (Mumbai Visit) में बिताएंगे. यह संभावना जताई जा रही है कि इस दौरान वे अपने राज्‍य में निवेश के लिए उद्योगपतियों और बॉलीवुड शख्सियतों से मुलाकात करेंगे. यूपी के सीएम का यह कदम महाराष्‍ट्र में उनके समकक्ष उद्धव ठाकरे को ज्‍यादा रास नहीं आया है. योगी आदित्‍यनाथ आज देर शाम मुंबई पहुंचेंगे और बुधवार को BSE में लखनऊ म्‍युनिसिपल कार्पोरेशन के बांड लिस्टिग की बेल (Bell)बजाएंगे. वे बाद में 'मेक इन उत्‍तर प्रदेश' कैम्‍पेन का हिस्‍सा बनने के लिए राज्‍य के उद्यमियों को प्रेरित करेंगे.गौरतलब है क‍ि  यूपी की बीजेपी सरकार राज्‍य के MSME में निवेश बढ़ाने के लिए प्रयास कर रही है. यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने इससे पहले यूपी में बॉलीवुड से बड़ी फिल्‍म इंडस्‍ट्री बनाने की योजना के बारे में बताया था. उन्‍होंने इस संबंध में कई प्रमुख फिल्‍मी हस्तियों से भी भेंट की थी. 

उर्मिला मातोंडकर ने जॉइन की शिवसेना, पिछले साल लोकसभा चुनाव हारने के बाद छोड़ी थी कांग्रेस

पीटीआई के अनुसार, महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने आरोप लगाया कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री बॉलीवुड को मुंबई से बाहर ले जाने की साजिश की जा रही है.. यूपी के सीएम की मुंबई यात्रा पर महाराष्‍ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने भी प्रतिक्रिया दी है. छोटे कारोबारियों की हिमायत करने वाले एक संगठन आईएमसी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में ठाकरे ने कहा, ‘‘हम किसी की प्रगति से नहीं जलते. अगर कोई प्रतिस्पर्धा करके प्रगति करता है तो हमें कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन, अगर आप जबरन कोई चीज ले जाना चाहेंगे तो मैं ऐसा नहीं होने दूंगा और आप (उद्योगपति) भी ऐसा नहीं चाहेंगे.'' निवेशकों को आकर्षित करने के लिए अपने राज्य द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली टैगलाइन ‘मैग्नेटिक महाराष्ट्र' का उल्लेख करते हुए ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र के पास अपनी संस्कृति और संस्थानों की शक्ति हैं. ठाकरे ने कहा, ‘‘आज कोई व्यक्ति आ रहा है.वे आपसे भी मुलाकात करेंगे और आपको निवेश करने के लिए कहेंगे, लेकिन उन्हें महाराष्ट्र की आकर्षण क्षमता का पता नहीं है, यह इतना मजबूत है कि लोग यहां से वहां जाना भूल जाते हैं. ''ठाकरे ने कहा कि महामारी के कारण अर्थव्यवस्था को झटका लगा लेकिन अब वह धीरे-धीरे पटरी पर आ रही है. उन्होंने कहा कि महामारी के कारण बनी स्थिति स्थायी नहीं है और आर्थिक गतिविधियां बहाल हो जाने पर धन प्रवाह भी शुरू हो जाएगा.

Newsbeep

महाराष्ट्र : यात्रियों को दिखानी होगी कोविड नेगेटिव रिपोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com