उद्धव ठाकरे ने PM मोदी को किया फोन, कहा- मेरी सरकार को अस्थिर करने की हो रही है कोशिश

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) से फोन पर बात की. उन्होंने राज्य में अस्थिरता फैलाने को लेकर शिकायत की.

उद्धव ठाकरे ने PM मोदी को किया फोन, कहा- मेरी सरकार को अस्थिर करने की हो रही है कोशिश

उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से की फोन पर बात.

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की. सूत्रों ने बताया बातचीत के दौरान उद्धव ने कहा कि राज्य में राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने की कोशिश की जा रही है. उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से कहा कि ऐसे में समय में राज्य में अस्थिरता फैलाना ठीक नहीं है. बता दें कि दोनों नेताओं के बीच यह बातचीत ऐसे समय में हुई है जब उद्धव ठाकरे के मनोनयन को लेकर राज्य मंत्रिमंडल की सिफारिश पर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का फैसला करना बाकी है. 

बता दें कि एक दिन पहले  सत्तारूढ़ महाराष्ट्र विकास अघाड़ी (एमवीए) के नेताओं ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और उद्धव ठाकरे को राज्यपाल द्वारा मनोनीत सदस्य के रूप में विधान परिषद में भेजने की मंत्रिमंडल की सिफारिश पर विचार करने का अनुरोध किया था. महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजीत पवार के नेतृत्व में गए प्रतिनिधिमंडल में राजस्व मंत्री बालासाहेब थोराट, जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल, खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल, शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे, संसदीय कार्य मंत्री अनिल परब और कपड़ा मंत्री असलम शेख शामिल थे.

राज्य मंत्रिमंडल ने सोमवार को मुख्यमंत्री ठाकरे को विधान परिषद में मनोनीत किए जाने का प्रस्ताव रखते हुए नये सिरे से सिफारिश की थी. परिषद की दो खाली सीटों में से एक पर राज्यपाल के कोटे में उन्हें मनोनीत करने की सिफारिश की गई है.
ठाकरे विधान मंडल के किसी सदन के सदस्य नहीं हैं और उन्हें 28 मई तक विधानसभा या विधान परिषद का सदस्य बनना होगा. शिवसेना नेता ने पिछले साल 28 नवंबर को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी और इस तारीख से छह महीने की अवधि के अंदर उन्हें विधायिका का सदस्य बनना होगा, अन्यथा इस्तीफा देना होगा. इस बारे में राज्यपाल ने अभी फैसला नहीं लिया है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com