सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर उद्धव ठाकरे बोले- 'भगवान उनके परिवार, प्रशंसकों और प्रियजनों को शक्ति दें'

उद्धव ठाकरे ने ट्वीट किया, 'सुशांत सिंह राजपूत के आकस्मिक निधन के बारे में सुनकर हैरान और दुखी हूं.

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर उद्धव ठाकरे बोले- 'भगवान उनके परिवार, प्रशंसकों और प्रियजनों को शक्ति दें'

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का आया रिएक्शन. (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मुंबई स्थित बांद्रा में अपने घर पर मृत पाए गए. पुलिस के अनुसार सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) ने खुदकुशी की है, हालांकि अभी तक इसका कारण पता नहीं चल सका है. सुशांत सिंह राजपूत के मौत की खबर से फिल्म इंडस्ट्री से लेकर राजनैतिक गलियारों तक में शोक की लहर है और हर कोई अपनी संवेदनाएं जता रहा है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने भी सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर शोक जताया. उद्धव ठाकरे ने ट्वीट किया, 'सुशांत सिंह राजपूत के आकस्मिक निधन के बारे में सुनकर हैरान और दुखी हूं. भगवान उनके परिवार, प्रशंसकों और प्रियजनों को शक्ति दें.
 

वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, 'हिंदी फ़िल्मों के युवा कलाकार सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु का समाचार स्तब्ध करने वाला है. उनकी अभिनय क्षमता, प्रतिभा और कौशल के लोग क़ायल था. उनका यूं चले जाना पीड़ादायक है और यह फ़िल्मजगत के लिए एक बड़ा नुक़सान है।ईश्वर उनके परिवार एवं प्रशंसकों को यह दुःख सहने की शक्ति दे.

कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट किया, 'स्तब्ध हूं! पिछले हफ़्ते यूं ही अचानक सोचा था कि तुम्हें कॉल करूंगा, बात करूंगा, ख़ाली वक़्त कैसे कट रहा है इस पर बात करेंगे, हंसी-मज़ाक़ करेंगे ! इतना लेट तो नहीं हुआ भाई कि तुम ऐसे ख़ामोश हो गए ? उफ़ “तुम गए क्या शहर सूना कर गए, दर्द का आकार दूना कर गए..!”

उधर, पुलिस सूत्रों के मुताबिक,  'सुशांत सिंह राजपूत के पास  से अभी कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. वो अपने बेडरूम में थे. दरवाजा तोड़कर अंदर जाना पड़ा, लेकिन पहले कमरे में कौन गया अभी ये साफ नहीं है. चर्चा है कि दोस्त और नौकर घर मे ही थे उस वक्त. पर पुलिस इस पर कुछ नहीं कह रही है. आस-पास के लोगों का कहना है कि वो डिप्रेशन में थे.

(आत्‍महत्‍या किसी समस्‍या का समाधान नहीं है. अगर आपको सहारे की जरूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं जिसे मदद की दरकार है तो कृपया अपने नजदीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं.)

हेल्‍पलाइन नंबर:

AASRA: 91-22-27546669 (24 घंटे उपलब्ध)

स्‍नेहा फाउंडेशन: 91-44-24640050 (24 घंटे उपलब्ध)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ: 1860-2662-345 और 1800-2333-330 (24 घंटे उपलब्ध)

iCall: 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध: सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)
एनजीओ: 18002094353 दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक उपलब्‍ध)