अच्‍छा प्रदर्शन न करने वाले 33 अफसरों को पीएम मोदी के आदेश के बाद केंद्र ने कहा 'बाय-बाय'

अच्‍छा प्रदर्शन न करने वाले 33 अफसरों को पीएम मोदी के आदेश के बाद केंद्र ने कहा 'बाय-बाय'

पीएम नरेंद्र मोदी का फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली:

सेवा में रहते अधिकारियों का अच्‍छा प्रदर्शन नहीं करना बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुड गवर्नेंस संदेश के मद्देनजर केंद्र सरकार ने राजस्‍व विभाग के 33 वरिष्‍ठ अधिकारियों को समय से पहले सेवानिवृत्ति लेने का आदेश दिया है।

पिछले दो सालों में 72 अधिकारियों को बर्खास्‍त कर दिया गया
पिछले दो सालों में 72 अधिकारियों को विभागीय और अनुशासनात्‍मक कार्रवाई के बाद बर्खास्‍त कर दिया गया, लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब अधिकारियों के एक इतने बड़े समूह के खिलाफ कार्रवाई की गई हो। उक्‍त सभी 105 अधिकारी क्‍लास वन अफसर थे और 50 साल की उम्र से ज्‍यादा के थे।

कार्रवाई से अधिकारियों की धारणा बदलेगी : वरिष्‍ठ अधिकारी
कार्मिक मंत्रालय के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि राजस्व अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई अधिकारियों की उस धारणा को बदलने का हिस्सा था, जिसमें यह धारणा है कि खराब प्रदर्शन या जनता को परेशान करने से उनकी नौकरी पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

पीएम को अधिकारियों के खिलाफ लगातार मिल रही थी शिकायतें
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नियमित रूप से कई विभागों से अधिकारियों के खिलाफ उदासीनता और जनता को परेशान करने का रवैया अपनाने की शिकायतें मिल रही थीं। जनवरी माह में पीएम मोदी ने 'प्रगति बातचीत' नामक एक बैठक में सभी विभागों के सचिवों को ऐसे अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा था जो अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर रहे। साथ ही उन्‍हें ऐसे अधिकारियों की एक सूची भी तैयार करने को कहा गया था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com