NDTV Khabar

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े बोले- अगर एक हिंदू लड़की को छुआ तो...

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर हम सोते रहे तो हमारे ज्यादात्तर घरों के नाम मंजिल हो जाएंगे. भविष्य में भगवान राम को जहांपनाह और सीता को बीबी के नाम से बुलाया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. केंद्रीय मंत्री ने फिर दिया विवादित बयान
  2. कहा- हिंदू लड़की को छुआ तो वो हाथ नहीं बचेगा
  3. 'ताजमहल मुस्लिमों ने नहीं बनवाया'
कर्नाटक:

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े (Ananth Kumar Hegde) एक बार फिर विवादित बयान देकर चर्चा में आ गए हैं. उन्होंने रविवार को ताजमहल (Taj Mahal) पर टिप्पणी करने से लेकर 'हिंदू लड़कियों की सुरक्षा' पर बयान दिया. हेगड़े ने कर्नाटक के कोडागु जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'हमें हमारे समाज की प्राथमिकता के बारे में सोचना चाहिए. हमें जाति के बारे में नहीं सोचना चाहिए. अगर कोई एक हाथ हिंदू लड़की को छूता है तो वह हाथ नहीं बचना चाहिए.' यह पहली बार नहीं है कि केंद्रीय मंत्री ने संवेदनशील मुद्दों को लेकर विवादित बयान दिया है.

रविवार को हेगड़े ने इसके साथ ही ताजमहल पर टिप्पणी करते हुए कहा, 'ताजमहल मुस्लिमों ने नहीं बनाया था. इतिहास इसका गवाह है कि इसका निर्माण मुस्लिमों ने नहीं करवाया था. शाहजहां ने अपनी जीवनी में कहा है कि उन्होंने यह जमीन राजा जयसिम्हा से खरीदी थी. एक शिव मंदिर है, जिसे राजा परमतीर्थ ने बनवाया था, जिसका नाम तेजो महालया था. तेजो महालया का नाम बदलकर ताजमहल कर दिया गया. अगर हम सोते रहे तो हमारे ज्यादात्तर घरों के नाम मंजिल हो जाएंगे. भविष्य में भगवान राम को जहांपनाह और सीता को बीबी के नाम से बुलाया जाएगा.'


सबरीमाला मंदिर मामला: केरल सरकार पर भड़के केंद्रीय मंत्री, मुद्दे के संचालन की तुलना 'हिन्दुओं से दिन-दहाड़े रेप' से की

बता दें, हेगड़े ने दो जनवरी को सबरीमाला मंदिर के मुद्दे को लेकर केरल सरकार पर निशाना साधा था और कहा था कि उन्होंने सरकार के इस मामले को संभालने की तुलना हिंदुओं के साथ 'दिन दहाड़े रेप' से की थी. उन्होंने कहा था कि जिस तरह से सरकार इस मामले को हैंडल कर रही है उससे यह मामला अब 'हिन्दुओं से दिन-दहाड़े रेप' की तरह हो चला है. 

अनंत हेगड़े का तंज, 'नौटंकी' करते हैं राहुल गांधी, कांग्रेस है 'ड्रामा कंपनी'

टिप्पणियां

हेगड़े ने कहा था कि 'मुख्यमंत्री का पूर्वाग्रह, वामपंथी पूर्वाग्रह के बजाय, केरल में पूर्ण भ्रम पैदा कर रहा है. सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने जो निर्देश दिया है, मैं उससे पूरी तरह सहमत हूं. चूंकि कानून और व्यवस्था एक राज्य का विषय है, इसलिए इसे देखना चाहिए था. जनता के विश्वास को ठेस पहुंचाए बिना कूटनीतिक रूप से प्रबंधित किया जा सकता है.' इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि केरल सरकार पूरी तरह से विफल रही है. मैं कहना चाहूंगा कि यह पूरी तरह से दिन दहाड़े हिंदू से बलात्कार जैसा है. 

मोदी सरकार में मंत्री अनंत कुमार हेगड़े के 'संविधान बदलने' वाले बयान से भाजपा ने किया किनारा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement