NDTV Khabar

मोदी सरकार के मंत्री रामदास अठावले बोले-दलित शब्द नहीं है अपमानजनक, बैन पर जाएंगे सुप्रीम कोर्ट

नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले ने दलित शब्द पर लगे प्रतिबंध पर एतराज जाहिर किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मोदी सरकार के मंत्री रामदास अठावले बोले-दलित शब्द नहीं है अपमानजनक, बैन पर जाएंगे सुप्रीम कोर्ट

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की फाइल फोटो.

खास बातें

  1. दलित शब्द पर प्रतिबंध से नाराज हैं केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले
  2. बोले-पार्टी खटखटाएगी सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा
  3. आइबी ने मीडियो को दलित शब्द के इस्तेमाल से बचने को कहा है
नई दिल्ली:

बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर पीठ ने दलित शब्द के इस्तेमाल पर बैन लगाया तो सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने भी मीडिया को इस शब्द से बचने का निर्देश जारी किया. कहा गया है कि दलित की जगह अनुसूचित जाति लिखा जाए. इस पर नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्य मंत्री रामदास अठावले ने एतराज जाहिर किया है. उन्होंने कहा है कि दलित शब्द का इस्तेमाल बिल्कुल अपमानजनक नहीं है. उन्होंने कहा कि इसको लेकर उनकी पार्टी सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी.
रामदास अठावले ने एएनआई से कहा-उनकी पार्टी सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के उन दिशा-निर्देशों को कोर्ट में  चुनौती देगी, जिनमें दलित शब्द के इस्तेमाल से मीडिया को रोका गया है. अठावले के मुताबिक दलित शब्द के इस्तेमाल में कोई गड़बड़ी नहीं है. 

 


बता दें कि पंकज मेश्राम की ओर से दाखिल जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाई कोर्ट ने दलित शब्द के इस्तेमाल पर रोक लगाते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को पालन कराने का आदेश दिया था. याची ने मांग की थी कि चूंकि संविधान में यह शब्द नहीं है, इस नाते सरकारी दस्तावेजों और पत्रों से दलित शब्द को हटाने का आदेश जारी किया जाए. इससे पहले मध्य प्रदेश हाई कोर्ट भी दलित शब्द को लेकर कुछ ऐसी ही हिदायत दे चुका है. 
टिप्पणियां

वीडियो-रणनीति इंट्रो: फिर शुरू हुई जाति पर जंग 


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement