NDTV Khabar

उन्नाव गैंगरेप मामला: कुलदीप सेंगर ने तीस हजारी कोर्ट के उम्रकैद के फैसले को दिल्ली हाईकोर्ट में दी चुनौती

उन्नाव गैंगरेप (Unnao Gang Rape) मामले में दोषी कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Sengar) ने तीस हजारी कोर्ट के फैसले को दिल्ली हाईकोर्ट में दी चुनौती. तीस हजारी कोर्ट ने कुलदीप सेंगर को उम्रकैद की सजा सुनाई थी. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उन्नाव गैंगरेप मामला: कुलदीप सेंगर ने तीस हजारी कोर्ट के उम्रकैद के फैसले को दिल्ली हाईकोर्ट में दी चुनौती

Unnao Gang Rape Case: कुलदीप सेंगर ने तीस हजारी कोर्ट के फैसले को दिल्ली हाईकोर्ट में दी चुनौती.

खास बातें

  1. उन्नाव गैंगरेप केस के फ़ैसले को चुनौती
  2. कुलदीप सेंगर को उम्रकैद की सज़ा मिली है
  3. सेंगर ने तीस हज़ारी कोर्ट के फ़ैसले को चुनौती दी
नई दिल्ली:

उन्नाव गैंगरेप (Unnao Gang Rape) मामले में दोषी कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) ने तीस हजारी कोर्ट के फैसले को दिल्ली हाईकोर्ट में दी चुनौती. तीस हजारी कोर्ट ने कुलदीप सेंगर को उम्रकैद की सजा सुनाई थी. बता दें कि बीते 20 दिसंबर को उन्नाव रेप मामले (Unnao Rape Case) में दोषी पाए गए बीजेपी से निष्कासित किए जा चुके विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Sengar) को दिल्ली की तीस हजारी अदालत ने उम्रकैद के साथ-साथ 25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था. सजा सुनते ही सेंगर कोर्ट में फूट-फूटकर रोने लगा था. सजा पर कोर्ट में बहस के दौरान कुलदीप सेंगर की ओर से वकील ने कहा कि उनकी (विधायक) दो बेटी हैं और पत्नी है, उनपर परिवार की जिम्मेदारी है.
 


उन्नाव बलात्कार पीड़िता के पिता का इलाज करने वाले डॉक्टर की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत


कुलदीप सिंह सेंगर ने वकील ने अदालत से कहा था कि वह सभी उनपर निर्भर हैं. सेंगर के वकील ने कहा उनके ऊपर लोन भी है. बेटी की पढ़ाई के लिए लोन लिया था. वहीं पीड़िता के परिवार ने सेंगर को उम्रकैद की सजा सुनाए जाने पर संतोष जाहिर किया है. पीड़िता की तरफ से कहा गया कि कुलदीप विधायक है और उन्होंने इस मामले में अपने पद का दुरुपयोग किया. पीड़िता के वकील ने कहा कि कुलदीप सिंह को अधिकतम सजा देनी चाहिए. इस मामले में बिना किसी राहत के उम्रकैद की सजा देनी चाहिए.

रेप आरोपी MLA कुलदीप सिंह सेंगर को उन्नाव से BJP सांसद साक्षी महाराज ने दी जन्मदिन की बधाई, फिर हटाया ट्वीट

टिप्पणियां

बता दें कि इस साल 28 जुलाई को रायबरेली के गुरुबख्शगंज थाना क्षेत्र में कार व ट्रक की टक्कर में रेप पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई थी. पीड़िता और कार चला रहे उनके वकील गंभीर रूप से घायल हो गए थे. पीड़ित परिवार का आरोप है कि कुलदीप सेंगर ने ही यह एक्सीडेंट करवाया था. इस मामले में भी सेंगर व अन्य लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. मामले के तूल पकड़ने के बाद बीजेपी पर दबाव बढ़ा और अगस्त में सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया. 

VIDEO: उन्नाव रेप केस में कुलदीप सिंह सेंगर को मिली उम्रकैद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... IMF की नजर अब नागरिकता कानून और NRC के खिलाफ प्रदर्शनों पर भी, 7 बड़ी बातें

Advertisement