NDTV Khabar

प्रवासी भारतीय सम्मलेन में एमजे अकबर की एक तस्वीर ने कराई सरकार की किरकिरी

सम्मेलन की बुकलेट में अकबर की फोटो के साथ उनका पद विदेश राज्यमंत्री लिखा है जबकि वे करीब तीन माह पहले ही इस पद से हट चुके हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रवासी भारतीय सम्मलेन में एमजे अकबर की एक तस्वीर ने कराई सरकार की किरकिरी

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में वितरित की गई बुकलेट में एमजे अकबर की फोटो भी प्रकाशित की गई है.

खास बातें

  1. बुकलेट में मोदी सरकार की कूटनीतिक सफलताओं का जिक्र
  2. बुकलेट में छपी एमजे अकबर की फोटो वायरल हो गई
  3. मामला सामने आने के बाद आयोजकों ने बुकलेट हटा दी
वाराणसी:

वाराणसी में आज शुरू हुए प्रवासी भारतीय सम्मेलन में आए मेहमानों को यही बताया जा रहा है कि एमजे अकबर विदेश राज्यमंत्री है. सरकार की एक बुकलेट में अकबर की फोटो के साथ उनका पद विदेश राज्यमंत्री लिखा है जबकि वे करीब तीन माह पहले ही इस पद से हट चुके हैं. इस गड़बड़ी से सरकार की किरकिरी हो रही है.   

पंद्रहवां प्रवासी भारतीय सम्मेलन वाराणसी में सोमवार को शुरू हो गया. सम्मेलन में 78 देशों के लगभग छह हजार प्रवासियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. सम्मेलन 23 जनवरी तक चलेगा. इस दौरान जो भी प्रतिनिधि सम्मेलन में आ रहे हैं उन्हें विदेश मंत्रालय की ओर से एक किट दिया जा रहा है. किट में बुकलेट भी है, जिसके कवर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह की तस्वीरें छपी हैं. उनके साथ एमजे अकबर की भी फोटो है. फोटो के साथ उनका पद विदेश राज्यमंत्री लिखा गया है. बुकलेट में मोदी सरकार की कूटनीतिक सफलताओं का जिक्र किया गया है.

यह भी पढ़ें : वाराणसी में प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का सुषमा स्वराज और सीएम योगी ने किया उद्घाटन


सम्मेलन के पहले ही दिन आयोजकों की इस एक लापरवाही से मोदी सरकार की किरकिरी होने लगी. मी टू के आरोप लगने के बाद अक्टूबर 2018 में एमजे अकबर को मोदी मंत्रिमंडल से हटा दिया गया था. शायद लापरवाही की वजह से बुकलेट में उनका पदनाम नहीं हट पाया. मामला सामने आने के बाद आयोजकों ने बुकलेट तो हटा दी लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी. बुकलेट में छपी एमजे अकबर की फोटो वायरल हो गई है.

 

71cem544

आयोजन पर पैनी नज़र थी मोदी-योगी की

प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए पिछले आठ महीनों से तैयारी की जा रही थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ की नजरें सम्मेलन की तैयारियों पर लगी थीं. कार्यक्रम की तैयारियों को परखने के लिए दोनों खुद भी बनारस पहुंचे थे. यही नहीं मेहमानों की खातिरदारी में कोई कमी न रह जाए, इसके लिए पानी की तरह पैसा बहाया गया. पूरे शहर को दुल्हन की तरह सजाया गया. इसके बावजूद इतनी बड़ी लापरवाही सामने आई. इसे लेकर आयोजकों को जवाब देते नहीं बन रहा है.

VIDEO : एमजे अकबर पर लगा रेप का आरोप

टिप्पणियां

एमजे अकबर पर लग चुके हैं मी-टू के आरोप
मोदी सरकार में पूर्व मंत्री एमजे अकबर पर 20 से अधिक महिला पत्रकारों ने मी टू अभियान के तहत आरोप लगाए थे. मामला तूल पकड़ने के बाद एमजे अकबर को मंत्रिमंडल से रुखसत होना पड़ा. इस बीच प्रवासी भारतीय सम्मेलन में बांटी गई बुकलेट के बाद पूर्व मंत्री फिर से सुर्खियों में आ गए हैं. हालांकि बुकलेट के फ्रंट पेज पर 2014-2018 लिखा है. माना जा रहा है कि यह बुकलेट पुरानी है. लेकिन बड़ा सवाल ये है कि जिस कार्यक्रम पर पूरे देश की नजर है, वहां इतनी बड़ी लापरवाही कैसे हो गई?



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement