Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

राफेल मामला: यूपी के सीएम योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- इस वजह से नहीं हो पाई थी डील

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि 2007 में सबसे पहले कांग्रेस ने ही इस डील को प्रस्तावित किया था लेकिन तब वह ऐसा कोई बिचोलिया नहीं ढूंढ़ पाई जो उसके हक में इस डील को तय करा पाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल मामला: यूपी के सीएम योगी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- इस वजह से नहीं हो पाई थी डील

योगी आदित्यनाथ ने की राफेल डील पर टिप्पणी

खास बातें

  1. गुवाहाटी में प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे योगी
  2. कहा- नहीं मिले बिचौलिये इसलिए कांग्रेस फिक्स नहीं कर पाई डील
  3. कांग्रेस का पुराना है रिकॉर्ड
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने राफेल मुद्दे (Rafale Deal) को लेकर कांग्रेस पर एक बार फिर हमला बोला है. योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि 2007 में सबसे पहले कांग्रेस ने ही इस डील को प्रस्तावित किया था लेकिन तब वह ऐसा कोई बिचोलिया नहीं ढूंढ़ पाई जो उसके हक में इस डील को तय करा पाए. उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी जब सत्ता में थी तब जितने भी रक्षा समझौते किए गए उनमें बिचौलियों ने एक बड़ी भूमिका निभाई थी. चाहे बात ओत्तावियो क्वात्रोक्की की हो या फिर अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील मामले की जिसमें क्रिश्चियन मिशेल बिचौलिये थे. राफेल मामले (Rafale Deal) में डील तय करने में देरी इसी लिए हुई क्योंकि कांग्रेस को कोई ढंग का बिचौलिया नहीं मिला.सीएम योगी (Yogi Adityanath)  ने यह बात गुवाहाटी में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में की.  वह यह बीजेपी के राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम में शिरकत करने आए थे.

यह भी पढ़ें: राफेल डील मामला: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- कैग को बता चुके हैं विमान की कीमत 


उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला. गौरतलब है कि पिछले सप्ताह  राफेल सौदे पर आरोपों से घिरी रही मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दे दी है. राफेल डील पर मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट में बड़ी राहत मिली है. सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों ने एकमत से अपने फैसले में राफेल सौदे को लेकर सभी याचिकाएं खारिज कर दी हैं और मोदी सरकार को पूरी तरह से क्लीन चिट दे दी है. बता दें कि राफेल पर मोदी सरकार काफी समय से घिरी थी और विपक्ष ने इसे चुनावी हथियार बनाया था.

यह भी पढ़ें: अब राफेल डील पर फैसले में 'तथ्यात्मक सुधार' की मांग को लेकर SC पहुंची केंद्र सरकार

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस सौदे को लेकर कोई शक नहीं है और कोर्ट को इस मामले में अब कोई हस्तक्षेप नहीं करना चाहती है. कोर्ट ने साथ में यह भी कहा है कि विमान खरीद प्रक्रिया पर भी कोई शक नहीं है. कोर्ट ने कहा कि हमने राष्ट्रीय सुरक्षा और सौदे के नियम कायदे दोनों को जजमेंट लिखते समय ध्यान में रखा है. कोर्ट ने कहा था कि कोई शक नहीं कि विमान हमारी ज़रूरत हैं और उनकी गुणवत्ता पर भी सवाल नहीं है. बता दें कि राफेल सौदे की जांच के मामले में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की पीठ फैसला सुनाया.

यह भी पढ़ें: राफेल को लेकर ‘कहानी गढ़ी' गई, हंगामा करने वाले सभी मोर्चों पर नाकाम : अरुण जेटली

इस मामले में मनोहर लाल शर्मा, विनीत ढांडा, आम आदमी पार्टी के सासंद संजय सिंह, प्रशांत भूषण, अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा की याचिकाओं पर फैसला सुनाया गया. इन याचिकाओं में राफेल सौदे की कीमत और उसके फायदों की जांच कराने की मांग की गई थी और कहा गया था कि ज्यादा कीमतों पर डील हुई और गलत तरीके से ऑफसेट पार्टनर चुना गया. इसलिए डील को रद्द किया जाए.

VIDEO: राफेल डील पर एससी ने की टिप्पणी.

टिप्पणियां

 



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली के बाद अब इस राज्य में पार्टी के विस्तार में जुटी AAP, उठाएगी यह कदम...

Advertisement