NDTV Khabar

कांग्रेस का BJP पर हमला, हनुमान जी को मत छेड़ो, उनके वार से तीन राज्य तो चले गए, अभी भी नहीं समझे तो...

हनुमान जी की जाति (Lord Hanuman caste) पर मचे सियासी घमासान के बीच कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस का BJP पर हमला, हनुमान जी को मत छेड़ो, उनके वार से तीन राज्य तो चले गए, अभी भी नहीं समझे तो...

हनुमान जी की जाति को लेकर मचे सियासी घमासान के बीच राज बब्बर ने बीजेपी पर हमला बोला.

नई दिल्ली:

हनुमान जी की जाति (Lord Hanuman caste) पर मचे सियासी घमासान के बीच कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख राज बब्‍बर (Raj Babbar) ने कहा कि, 'बीजेपी वालों को ये समझ लेना चाहिए कि देखो ज्‍यादा मत छेड़ो हनुमान जी को, उनकी पूंछ के वार से तीन प्रदेश तो चले गए हैं, अब तुम्‍हारी लंका में आग लगने वाली है.' बता दें कि इससे पहले मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी बीजेपी पर हमला बोला था. दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) ने BJP पर निशाना साधते हुए कहा था कि 'हिन्दू देवता पर कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अन्य भाजपा नेताओं के साथ-साथ आरएसएस और अखाड़ा परिषद जैसे संगठनों को कोई भी संबंध नहीं रखना चाहिये. इन नेताओं का सार्वजनिक रूप से तिरस्कार किया जाना चाहिये.'

 


 

उन्होंने कहा था, 'हनुमानजी को लेकर अनर्गल बहस की शुरुआत उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बजरंग बली को दलित कहकर की थी. इसके बाद अन्य भाजपा नेताओं ने बजरंग बली को मुसलमान और जाट भी बता दिया.' 71 वर्षीय राज्यसभा सांसद ने कहा, 'हम हनुमानजी को भगवान शंकर का अवतार मानते हैं, लेकिन भाजपा नेता हनुमानजी को भी जाति-धर्म के मामले में घसीट रहे हैं. आखिर ये नेता किस धर्म का पालन कर रहे हैं?' उन्होंने मांग की थी कि योगी और अन्य भाजपा नेताओं को भगवान हनुमान पर अपने आपत्तिजनक बयानों के लिए माफी मांगनी चाहिये. इसके साथ ही, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद और अखाड़ा परिषद जैसे संगठनों को इन नेताओं का सार्वजनिक रूप से बहिष्कार व तिरस्कार करना चाहिए.

देखें बुक्कल नवाब का वीडियो- 

 

#WATCH: BJP MLC Bukkal Nawab says "Hamara man'na hai Hanuman ji Muslaman theyy, isliye Musalmanon ke andar jo naam rakha jata hai Rehman, Ramzan, Farman, Zishan, Qurban jitne bhi naam rakhe jaate hain wo karib karib unhi par rakhe jaate hain." pic.twitter.com/1CoBIl4fPv

— ANI (@ANI) December 20, 2018

 

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजस्थान के अलवर में एक रैली के दौरान हनुमान जी को दलित बताया था. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि हनुमान जी दलित और वंचित हैं. राजस्थान के अलवर में आदित्यनाथ ने कहा कि 'बजरंगबली एक ऐसे लोक देवता हैं, जो स्वंय वनवासी हैं, निर्वासी हैं, दलित हैं, वंचित हैं. भारतीय समुदाय को उत्तर से लेकर दक्षिण तक पुरब से पश्चिम तक सबको जोड़ने का काम बजरंगबली करते हैं.'

देखें योगी आदित्यनाथ ने क्या कहा था हनुमान जी के बारे में...

 

#WATCH: UP CM Yogi Adityanath says in Rajasthan's Alwar, "Bajrangbali ek aise lok devta hain, jo swayam vanvasi hain, nirvasi hain, Dalit hain, vanchit hain. Bharatiya samudaye ko Uttar se leke Dakshin tak, purab se paschim tak, sabko jodne ka kaam Bajrangbali karte hain".(27.11) pic.twitter.com/5AdyrmMXQN

— ANI (@ANI) November 29, 2018

 

...अब BJP विधायक ने कहा- मुसलमान थे हनुमान जी, देखें VIDEO

एक ओर जहां सीएम योगी आदित्यनाथ बजरंगबली को दलित बता रहे हैं, वहीं मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल मलिक  (Satypal Malik) का कहना था कि हनुमन जी आर्य थे. केंद्रीय मंत्री सत्यपाल मलिक ने कहा कि भगवान राम और हनुमान जी के युग में कोई जाति व्यवस्था नहीं थी. इसलिए हनुमान जी आर्य थे. 

 

देखें बुक्कल नवाब ने क्या कहा...

 

#WATCH: BJP MLC Bukkal Nawab says "Hamara man'na hai Hanuman ji Muslaman theyy, isliye Musalmanon ke andar jo naam rakha jata hai Rehman, Ramzan, Farman, Zishan, Qurban jitne bhi naam rakhe jaate hain wo karib karib unhi par rakhe jaate hain." pic.twitter.com/1CoBIl4fPv

— ANI (@ANI) December 20, 2018

 

इन सबके बीच हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक बुक्कल नवाब (Bukkal Nawab) ने हनुमान जी को मुसलमान बता दिया. बुक्कल नवाब का कहना है कि हनुमान जी मुसलमान थे, इसलिए मुसलमानों में जो नाम रखे जाते हैं - रहमान, रमज़ान, फरमान, ज़ीशान, कुर्बान - जितने भी नाम रखे जाते है, वे करीब-करीब उन्हीं पर रखे जाते हैं.' बुक्कल नवाब कहते हैं कि करीब 100 नाम ऐसे हैं, जो हनुमानजी पर ही आधारित हैं. हिंदू भाई हनुमान जी नाम रख लेंगें, लेकिन सुल्तान नहीं मिलेगा, अरमान, रहमान, रमजान नहीं रख सकते.

हनुमान जी की जाति को लेकर मचे सियासी घमासान के बीच दिग्विजय सिंह का BJP पर हमला, कही यह बात...

बता दें कि इन सबके बीच उत्तर प्रदेश के ही एक जिले में जहां दलित समुदाय द्वारा बजरंगबली के एक मंदिर पर कब्जे की खबर सामने आई, तो अब पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हनुमान जी का जाति प्रमाण पत्र मांगा जा रहा है. इसके लिए बाकायदा आवेदन किया गया है.  

VIDEO: दलित, मुसलमान के बाद हनुमान जी पर एक और जाति का ठप्पा, योगी के मंत्री ने कहा- वह जाट थे

जिला मुख्यालय पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के युवजन सभा के लोग इकट्ठा हुए और उन्होंने बजरंगबली के जाति प्रमाण पत्र की मांग की. इसके लिये कार्यकर्ताओं ने बाकायदा जाति प्रमाण पत्र प्राप्त का आवेदन फॉर्म भरा. रोचक बात यह है कि कार्यकर्ताओं ने आवेदन फॉर्म में वांछित जानकारी भी भरी है. जैसे, बजरंगबली के पिता का नाम महाराज केशरी, जाति में वनवासी आदि भरा हुआ है.

 

t99hdqsg

 

कार्यकर्ता फॉर्म लेकर कार्यालय में गए और जाति प्रमाणपत्र की मांग की. प्रगतिशील युवजन सभा के लोग हनुमान जी के दलित होने पर उनके आरक्षण की भी मांग कर रहे है. सभा के जिला अध्यक्ष हरीश मिश्रा कहते हैं कि पिछले दिनों योगी आदित्यनाथ ने हनुमान जी को दलित बताया था. उसी क्रम में आज यहां उनके जाती प्रमाण के लिए आवेदन दिया गया. 

टिप्पणियां

VIDEO : दुनिया विज्ञान पर बात करती है और हम हनुमान जी की जाति पर

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement