यूपी : गरीबों की मदद करने वाले डॉक्टर की मौत, मुस्लिमों ने अर्थी को कांधा देकर कहा 'राम नाम सत्य...'

डॉ विनोद गुप्ता अविवाहित थे. मुसलमान डॉ. गुप्ता के पार्थिव शरीर को शवदाह गृह तक ले गये जहां पूरे रीति रिवाज से उनकी अन्त्येष्टि की गई.

यूपी : गरीबों की मदद करने वाले डॉक्टर की मौत, मुस्लिमों ने अर्थी को कांधा देकर कहा 'राम नाम सत्य...'

डॉ विनोद गुप्ता का क्लिनिक घनी मुस्लिम आबादी वाले इलाके में था.

फिरोजाबाद:

Uttar Pradesh Firozabad : उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में ढेरों मुसलमान आज "राम नाम सत्य है, प्रभु का नाम सत्य है" बोलते एक डॉक्टर विनोद गुप्ता की अर्थी को कंधा देते उनकी शव यात्रा में शामिल हुए. डॉ गुप्ता फ़िरोज़ाबाद में एक घनी मुस्लिम बस्ती नालबंद चौराहे पर क्लिनिक चलाते थे. उनकी खासियत यह थी कि वो जिसके पास पैसा न हो उसका मुफ्त इलाज करते थे. उनसे मुफ्त इलाज पाने वाले उनके इलाके के ग़रीब लोग उन्हें फरिश्ता समझते थे.

डॉक्टर विनोद गुप्ता की अंतिम यात्रा में फिरोजाबाद सदर से विधायक मनीष असीजा ने भी शिरकत की. असीजा ने बताया कि डॉक्टर गुप्ता का क्लिनिक मुस्लिम बहुल क्षेत्र में स्थित है और उनके ज्यादातर मरीज भी मुसलमान ही थे. गुप्ता अविवाहित थे और वह इलाके के लोगों में बेहद लोकप्रिय थे. उन्होंने बताया कि जब डॉ गुप्ता की शव यात्रा निकली तो यह देखकर लोग हैरान रह गये.

यह भी पढ़ें- जेल से रिहा होने के बाद बोले डॉ. कफील खान- राजा 'राजधर्म' नहीं, 'बालहठ' कर रहा है

विधायक ने बताया कि बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोगों ने अन्त्येष्टि के लिये ले जाये जा रहे गुप्ता के पार्थिव शरीर को कांधा दिया और बाकायदा ''राम नाम सत्य है'' और शव यात्रा के दौरान पढ़े जाने वाले मंत्रों का भी उच्चारण किया.
उन्होंने बताया कि मुसलमान गुप्ता के पार्थिव शरीर को शवदाह गृह तक ले गये जहां पूरे रीति रिवाज से उनकी अन्त्येष्टि की गयी.

असीजा ने बताया कि गुप्ता के परिवार की ओर से उनके दो चाचा और भतीजे अंत्येष्टि में शामिल हुए. भतीजे ने मुखाग्नि दी. 

(इनपुट एंजेसी भाषा से भी)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मध्य प्रदेश : दोस्त सैय्यद वाहिद अली का श्राद्ध करते हैं पंडित रामनरेश दुबे