हाथरस गैंगरेप की पीड़िता की मौत : निर्भया की मां का आया बयान - 'आज फिर एक बच्ची ने...'

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दो हफ्ते पहले रेप और प्रताड़ना का शिकार बनी 20 साल की पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में मंगलवार को मौत हो गई. इस घटना के बाद देशभर में लोगों के भीतर जबरदस्त आक्रोश है.

हाथरस गैंगरेप की पीड़िता की मौत : निर्भया की मां का आया बयान - 'आज फिर एक बच्ची ने...'

हाथरस गैंगरेप मामले में निर्भया की मां का आया बयान - फाइल फोटो

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दो हफ्ते पहले रेप और प्रताड़ना का शिकार बनी 20 साल की पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में मंगलवार को मौत हो गई. इस घटना के बाद देशभर में लोगों के भीतर जबरदस्त आक्रोश है. निर्भया की मां ने भी इस घटना पर अपना बयान दर्ज किया है. निर्भया की मां ने कहा, ''आज हम एक बार फिर 2012 में पहुंच गए, सुबह हमें खबर मिली कि आज फिर एक बच्ची ने अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठी. बहुत दुख होता है हम बार-बार ऐसी घटनाएं सुनते हैं कि ऐसी बच्चियों के साथ हैवानियत होती है. लेकिन वही सुनने को मिलता है कि मुजरिम पकड़े गए जेल चले गए और फिर दो-चार दिन बाद दूसरा केस हो जाता है.''

यह भी पढ़ें: यूपी: मर्डर केस में आरोपी एसपी नहीं उठा रहे फोन, कैसे करें पूछताछ? एडीजी ने देर रात की प्रेस कॉन्फ्रेन्स

इस घटना पर उन्होंने यह भी कहा, ''हाथरस की बेटी के साथ जो हादसा हुआ, उसने दम तोड़ दिया. मैं उनके परिवार के साथ हूं. जो चला गया हम उसे वापस तो नहीं ला सकते, लेकिन मैं उनके मां-बाप को विश्वास दिलाती हूं कि जो भी हो पड़ेगा हम उनके साथ हैं. यूपी सरकार और पुलिस से हमारी प्रार्थना है कि इस मामले के मुजरिमों पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो, फास्ट ट्रैक कोर्ट में इस केस को लगाया जाए. उन मुजरिमों के जल्द से जल्द फांसी की सजा हो और बच्ची को न्याय मिले.''

बताते चले कि पीड़िता गंभीर चोटें लगी थीं और उसका ICU में इलाज चल रहा था. कथित रूप से उसके गांव में लगभग दो हफ्तों पहले चार-पांच लोगों ने मिलकर उसका गैंगरेप किया था और प्रताड़नाएं दी थीं. पीड़िता की हालत बहुत बुरी थी, उसके शरीर में कई जगह फ्रैक्चर आए थे और उसकी जीभ काट दी गई थी.

यूपी में महिला से गैंगरेप और मौत मामले में भीम आर्मी ने दिल्ली के अस्पताल के बाहर किया प्रदर्शन

मामले में सभी चार आरोपी जेल में हैं. पीड़िता दलित जाति से थी, वहीं सभी आरोपी कथित रूप से उच्च जाति से संबंध रखते हैं. 20 साल की पीड़िता पर 14 सितंबर को राजधानी दिल्ली से लगभग 200 किमी दूर स्थित हाथरस के एक गांव में हमला किया गया था. आरोपियों ने उसे उसके दुपट्टे से खींचकर खेतों में ले जाया गया था. वो अपने परिवार के साथ घास काट रही थी.

पीड़िता के परिवार का आरोप है कि यूपी पुलिस ने उनकी शिकायत पर पहले कोई एक्शन नहीं लिया, लेकिन मामले पर गुस्सा बढ़ने लगा, जिसके बाद पुलिस हरकत में आई.

पीड़िता के भाई ने NDTV से बातचीत में बताया, 'मेरी मां, बहन और बड़ा भाई एक खेत में घास काटने गए थे. मेरा भाई घास का बड़ा बंडल लेकर घर चला गया और मेरी मां और बहन घास काटते रहे. दोनों एक-दूसरे से थोड़ी दूरी पर थे. तभी चार-पांच लोग पीछे से आए और मेरी बहन का दुपट्टा उसके गले में डालकर उसे घसीटकर बाजरा के खेतों में ले गए.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Video: हाथरस गैंगरेप पर बोलीं मायावती, UP में सुरक्षित नहीं बहन-बेटियां