NDTV Khabar

घर के अंदर भी सुरक्षित नहीं लोग, हैंडपंप पर नहा रहे लोगों को बेकाबू ट्रक ने कुचला, 2 की मौत

यूपी के भदोही जिले में भदोही-वाराणसी मार्ग के पाल चौराहे पर शनिवार को एक बेकाबू ट्रक ने घर में घुसकर तीन लोगों को रौंद दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
घर के अंदर भी सुरक्षित नहीं लोग, हैंडपंप पर नहा रहे लोगों को बेकाबू ट्रक ने कुचला, 2 की मौत

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. घर के अंदर भी सुरक्षित नहीं लोग
  2. नहा रहे लोगों को बेकाबू ट्रक ने कुचला
  3. 2 लोगों की मौत, एक शख्स घायल
यूपी:

भदोही जिले में भदोही-वाराणसी मार्ग के पाल चौराहे पर शनिवार को एक बेकाबू ट्रक ने घर में घुसकर तीन लोगों को रौंद दिया. घटना के समय ये लोग घर के अंदर एक हैंडपंप से नहा रहे थे. इसमें दो भाइयों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया. इस हादसे से गुस्साए लोगों ने वहां से गुजर रही एक स्कार्पियो गाड़ी पर पथराव कर दिया जिसमें एक दंपति घायल हो गया. पुलिस ने तीनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है. घटना के बाद ट्रक का ड्राइवर और क्लीनर फरार हो गए. चौरी थानाध्यक्ष सूर्यभान के मुताबिक जिले के पाल चौराहे के पास सुबह के समय अमरनाथ पाल (55), उसका चचेरा भाई राम नाथ पाल (60) और एक अन्य व्यक्ति विजय कुमार मौर्या (25) सड़क से पचास फीट की दूरी पर बने अपने घर के बाहर लगे हैंडपंप से नहा रहे थे.

शिवसेना पार्षद ने सड़क पर ट्रक ड्राइवरों को पीटा, Video हुआ वायरल


तभी वाराणसी की तरफ जा रहा तेज रफ्तार ट्रक बेकाबू होकर इन तीनों लोगों को कुचलते हुए घर के मेन गेट को तोड़कर घर के अंदर घुस गया. इस घटना में दोनों भाईयों की मौके पर ही मौत हो गयी. जबकि तीसरा व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया. इस घटना से नाराज लोगों ने दोनों शवों को सड़क पर रख कर विरोध स्वरूप जाम लगा दिया.

वे लोग पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़े थे. इस दौरान भारी अफरा तफरी के बीच एक निजी स्कूल के संचालक नीरज सिंह, पत्नी रीनू सिंह के साथ इस भीड़ में अपनी स्कार्पियो लेकर घुसे तो नाराज लोगों ने पथराव कर दिया जिससे नीरज और रीनू को सिर में मामूली चोट आई और गाड़ी को कुछ नुकसान पहुंचा.

टिप्पणियां

संकट में कर्नाटक सरकार! कांग्रेस के 8 और जेडीएस के 3 विधायक इस्तीफा देने राजभवन पहुंचे

तीन घंटे से ज्यादा तक चले जाम से अव्यवस्था देख पुलिस अधीक्षक राजेश एस और जिला अधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने वहां पहुंच कर लोगों को कार्रवाई करने और उचित मुआवजा देने का आश्वासन देकर जाम खत्म करा दिया. शवों को पोस्टमार्टम लिए भेज दिया गया है.  (इनपुट:भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement