NDTV Khabar

Vadodara Rain: 2 साल की बच्ची को बचाने के लिए पुलिसकर्मी गले तक भरे पानी में उतरा, फिर टब में रखकर यूं बचाई जान

Rain in Vadodara: वडोदरा में एक पुलिसकर्मी ने गर्दन तक पानी में उतरकर एक बच्ची का जान बचाई. वडोदरा में बाढ़ से जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Vadodara Rain: 2 साल की बच्ची को बचाने के लिए पुलिसकर्मी गले तक भरे पानी में उतरा, फिर टब में रखकर यूं बचाई जान

Vadodara Rain News: पुलिसकर्मी ने बचाई बच्ची की जान

खास बातें

  1. वडोदरा में बाढ़ जैसे हालात
  2. पुलिसकर्मी ने बचाई बच्ची का जान
  3. गर्दन तक पानी में उतरकर बचाई जान
वडोदरा:

Vadodara Rain: गुजरात के वडोदरा में मूसलाधार बारिश ने लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. यहां कई जगह बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. शहर में बारिश संबंधी घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई,जबकि पांच हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. इसी बीच एक पुलिसकर्मी ने गर्दन तक गहरे पानी में उतरकर एक बच्ची की जान बचाई. पुलिसकर्मी की एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में देखा जा सकता है कि वो बाढ़ के पानी में उतरकर अपने सिर पर बच्ची को रखकर बाहर निकाल रहे हैं.

Vadodara Rain: वडोदरा में मूसलाधार बारिश बनी मुसीबत, स्कूल और एयरपोर्ट बंद, ट्रेनें हुई प्रभावित


पुलिस उप-निरीक्षक गोविंद चावड़ा ने विश्वामित्रि रेलवे स्टेशन के पास देवीपुरा इलाके में डेढ़ वर्षीय एक बच्ची को बचाया. इसके बाद उनकी काफी तारीफ हो रही है. इलाके की बाढ़ के बारे में जानने के बाद पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने का अनुरोध किया.


Zomato का खाना कैंसिल करने वाला शख़्स पहले मंगाता रहा है नॉनवेज, डिलिवरी ब्वॉय भी था गैर हिंदू

गोविंद चावड़ा ने कहा, "मैं और टीम के अन्य सदस्यों को देवीपुरा पहुंचने के लिए बाढ़ वाली सड़कों से गुजरना पड़ा. हमने एक पोल को रस्सी से बांध दिया ताकि लोग इसे पकड़कर आगे बढ़ सकें क्योंकि पानी गर्दन से गहरा था." गोविंद चावड़ा ने आगे कहा, "हमें पता चला है कि एक बच्ची और उसकी मां बाढ़ के घर में फंसे हुए थे. मैंने महिला से कहा कि वह हमें एक प्लास्टिक का टब दे क्योंकि उस लड़की को मेरे हाथों में सुरक्षित रखना मुश्किल हो रहा था."

नौकरियां जा रही हैं तो कोई बता क्यों नहीं रहा, मंदी है तो कहां है मंदी?

उन्होंने कहा, "हमने टब में कुछ कपड़े और एक बेड-शीट रखी और उसमें बच्चे को डाल दिया. जिसके बाद मैंने अपने सिर पर टब रखा और उसे सुरक्षित स्थान पर ले जाने के लिए 1.5 किमी तक पांच फीट गहरे पानी से गुजरा. हमने उस बच्ची की मां को भी बचाया." बता दें कि बृहस्पतिवार सुबह तक 24 घंटे के दौरान यहां करीब 500 मिमी बारिश हुई जिससे सामान्य जनजीवन बाधित हुआ है. 

VIDEO: गुजरात: भारी बारिश से पानी-पानी वडोदरा

टिप्पणियां

(इनपुट भाषा से)
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement