वेंकैया नायडू ने किया सवाल- आप बीफ खाना चाहते हैं तो खाइये, लेकिन

नायडू ने कहा, ‘‘आप बीफ खाना चाहते हैं तो खाइये. (एक) महोत्सव क्यों? इसी तरह से चुंबन लेना चाहते हैं तो आपको यह करने के लिए कोई महोत्सव आयोजित करने या किसी की अनुमति लेने की क्यों जरूरत है.’’

वेंकैया नायडू ने किया सवाल- आप बीफ खाना चाहते हैं तो खाइये, लेकिन

उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू

खास बातें

  • यदि कोई चाहता है तो बीफ खा सकता है लेकिन महोत्सव की जरूरत नहीं
  • चुंबन लेना चाहते हैं तो आपको यह करने के लिए कोई महोत्सव की क्यों जरूरत
  • मोहम्मद अफजल गुरू के समर्थन में नारे लगाने वालों पर भी निशाना साधा
मुम्बई :

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने ‘‘बीफ फेस्टीवल’’ आयोजन के पीछे के तर्क पर सवाल उठाया और कहा कि यदि कोई चाहता है तो बीफ खा सकता है लेकिन इसके लिए कोई महोत्सव आयोजित करने की कोई जरूरत नहीं है.

कर्नाटक कांग्रेस ने बीजेपी को 'बीफ जनता पार्टी' कहा, वीडियो ट्वीट किया

नायडू ने कहा, ‘‘आप बीफ खाना चाहते हैं तो खाइये. (एक) महोत्सव क्यों? इसी तरह से चुंबन लेना चाहते हैं तो आपको यह करने के लिए कोई महोत्सव आयोजित करने या किसी की अनुमति लेने की क्यों जरूरत है.’’ 

उन्होंने यहां ‘आर ए पोदार कालेज आफ कॉमर्स’ के ‘प्लेटिनम जुबली’ समारोह में बोलते हुए संसद पर हमले के दोषी मोहम्मद अफजल गुरू के समर्थन में नारे लगाने वालों पर भी निशाना साधा. नायडू ने कहा,‘‘ कुछ लोग अफजल गुरू के नाम पर नारेबाजी कर रहे हैं. क्या हो रहा है? उसने हमारी संसद को उड़ाने का प्रयास किया.’’ 

गोवा में बीफ की कमी नहीं होने देंगे : मनोहर पर्रिकर

जुलाई 2017 में आईआईटी मद्रास के छात्रों ने गोहत्या पर रोक के खिलाफ आईआईटी के परिसर में ‘‘बीफ फेस्टीवल’’ आयोजित किया था. इसी तरह से इस महीने के शुरू में जम्मू कश्मीर में अफजल गुरू और जेकेएलएफ संस्थापक मकबूल भट की बरसी पर एक परामर्श जारी किया गया था.

भट और अफजल गुरू को क्रमश: 11 फरवरी 1984 और नौ फरवरी 2013 को फांसी देकर नयी दिल्ली के तिहाड़ जेल के भीतर दफना दिया गया था.

VIDEO: गोवा में बीफ की कमी से परेशान होटल
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com