NDTV Khabar

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा- 'दुनिया की समस्याओं के समाधान का रास्ता लोकतंत्र'

31 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा- 'दुनिया की समस्याओं के समाधान का रास्ता लोकतंत्र'

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. हामिद अंसारी पोलैंड के वारसॉ विश्वविद्यालय में व्याख्यान दे रहे थे.
  2. भारत के लोग हमारे लोकतांत्रिक भविष्य की सर्वश्रेष्ठ गारंटी हैं- अंसारी
  3. हमारा लोकतंत्र बना रहेगा और दूसरों को प्रेरित करता रहेगा- अंसारी
वारसॉ: भारत के उपराष्ट्रपति एम. हामिद अंसारी ने शुक्रवार को कहा कि शांतिपूर्ण और लोकतांत्रिक उपायों के जरिए ही वैश्विक समस्याओं का समाधान संभव है. अंसारी पोलैंड के वारसॉ विश्वविद्यालय में 'भारतीय लोकतंत्र के सात दशक' विषय पर व्याख्यान दे रहे थे. इस अवसर पर वारसॉ विश्वविद्यालय के रेक्टर प्रोफेसर मर्सिन पाल्सी और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे.

उपराष्ट्रपति ने कहा कि भारत के लोग हमारे लोकतांत्रिक भविष्य की सर्वश्रेष्ठ गारंटी हैं. जब तक सामान्य भारतीय लोकतंत्र के मूल्यों और समरूपता की सांस्कृतिक प्रथाओं को सही मानते हैं, जब तक हमारे लोग अधिकारों के सामने रुकावट पैदा नहीं करते हैं और सांप्रदायिक विचारों से प्रभावित नहीं होते हैं, तब तक हमारी आशा है कि हमारा लोकतंत्र बना रहेगा और दूसरों को प्रेरित करता रहेगा.

अंसारी ने कहा, "करीब तीन दशक पहले एक मशहूर समाजशास्त्री ने भारतीय लोकतंत्र को 'आधुनिक विश्व का एक धर्मनिरपेक्ष चमत्कार और अन्य विकासशील देशों के लिए एक मॉडल' कहा था. स्वतंत्रता के सात दशक बाद भी भारतीय लोकतंत्र का चमत्कार उन लोगों के लिए प्रकाशस्तम्भ की तरह चमक रहा है जो स्वतंत्रता की नींव में बुनियादी मानवीय मूल्यों को रखते हैं."

उन्होंने कहा, "समकालीन अर्थ में स्वतंत्र भारत की लोकतांत्रिक चेतना औपनिवेशिक शासन से स्वतंत्रता के लिए हमारे संघर्ष की विरासत का प्रतिबिंब है. राष्ट्रीय आंदोलन से जो हमने हासिल किया, वह हमारे संविधान में दर्ज है और यह भारत में राजनीतिक और न्यायिक संवाद को जारी रखते हैं. हमारे लोगों ने इस विरासत का इस्तेमाल सरकारों, राजनीतिक पार्टियों व संस्थानों के प्रदर्शन को आंकने के औजार के रूप में किया है."

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement