NDTV Khabar

Vladimir Putin in India: भारत-रूस के बीच एस-400 मिसाइल सौदे पर हस्ताक्षर, पीएम मोदी बोले- रूस से हमारे अद्वितीय संबंध

Vladimir Putin in India LIVE updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वार्षिक द्विपक्षीय शिखर बैठक के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) दो दिवसीय भारत यात्रा पर गुरुवार को यहां पहुंचे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Vladimir Putin in India: भारत-रूस के बीच एस-400 मिसाइल सौदे पर हस्ताक्षर, पीएम मोदी बोले- रूस से हमारे अद्वितीय संबंध

Vladimir Putin in India LIVE updates: भारत और रूस के बीच अहम रक्षा सौदे की उम्मीद

नई दिल्ली: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) अपने दो दिवसीय भारत यात्रा (Vladimir Putin) पर हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ वार्षिक द्विपक्षीय शिखर बैठक के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन दो दिवसीय भारत यात्रा पर गुरुवार को यहां पहुंचे. रूसी राष्ट्रपति का यह भारत दौरा भारत के लिहाज से काफी अहम है. क्योंकि उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच एस-400 वायु रक्षा प्रणाली सौदे पर दोनों देशों के बीच दस्तखत हुए. साथ ही अंतरिक्ष और ऊर्जा जैसे अहम क्षेत्रों में कई समझौतों पर हस्ताक्षर होने की संभावना है. गुरुवार को व्लादिमीर पुतिन की अगुवानी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने की. उसके बाद राष्ट्रपति पुतिन सीधे लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री निवास गए जहां दोनों नेताओं ने आमने-सामने बैठक की. बाद में प्रधानमंत्री मोदी ने उनके लिए एक निजी रात्रिभोज का आयोजन किया. रात्रिभोज पर बैठक 19वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन से एक दिन पहले हुई है. रूसी राष्ट्रपति के साथ एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी आया है जिसमें उप प्रधानमंत्री यूरी बोरिसोव, विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव और व्यापार एवं उद्योग मंत्री डेनिस मंतुरोव शामिल हैं.
 

Vladimir Putin in India LIVE updates:


- मैं भारत के Systemic Reforms, Transparent Resource Allocation, Reliability of Policy और Resurgence of Huge Middle Class का लाभ उठाने के आह्वान के साथ अपनी बात समाप्त करता हूं : PM मोदी

- भारत Technology में नए अविष्कारों के क्षेत्रों, जैसे AI, IoT, 3D Printing के जरिए Industry 4.0 की तरफ आगे बढ़ चुका है. भारत में Next Gen Infrastructure के लिए चौतरफा काम हो रहा है. Speed, Scale & Skill पर जोर देते हुए हम 21वीं सदी की आवश्यकताओं को समझते हुए आगे बढ़ रहे हैं : प्रधानमंत्री मोदी

- पिछले वर्षों में FDI के क्षेत्र में भी हमने काफी Reforms किए हैं. आज हम FDI की दृष्टि से सबसे खुली अर्थव्यवस्था हैं. भारत में 90% से ज्यादा मंजूरियां अब Automatic Route पर दी जा रहीं हैं. इसी का परिणाम है कि हमारी FDI पिछले 3 साल में लगभग दोगुना हुई है : PM मोदी

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'चाहे घरेलू नीति हो या फिर विदेश में भारत की छवि, चाहे आर्थिक प्रगति हो या टेक्नॉलॉजी का विस्तार, चाहे सुधार कार्यक्रम हों, ईज आफ डूइंग बिजनेस हो, चाहे Investor Friendly माहौल बनाना हो या फिर Business Friendly Policies, सभी क्षेत्रों में भारत एक मॉडल बन रहा है.'

- रूस की कंपनियों को भारत में निवेश करने में सुविधा हो, इसके लिए हमने 'Russia Plus' नाम से एक व्यवस्था खड़ी की है. आर्थिक सहयोग को और बढ़ाने के लिए संयुक्‍त कार्य समूह काम कर रहे हैं. ऐसे सहयोग से निश्चित ही दोनों देशों के बीच व्‍यापारिक गतिविधियां और बढ़ेंगी : PM मोदी

- दुनिया में बदलाव आना सामान्य बात है. बहुत कुछ बदल गया है और बदल रहा है. पर भारत और रुस की दोस्ती नहीं बदली. हम खुशनसीब हैं कि हमारे साथ सद्भाव और मैत्री की गंगा और वोल्गा हमेशा थीं, है और रहेंगी : PM मोदी

- भारत-रूस मैत्री अपने आप में अनूठी है. इस विशिष्ट रिश्ते के लिए राष्‍ट्रपति पुतिन की प्रतिबद्धता से इन संबंधों को और भी ऊर्जा मिलेगी. और हमारे बीच प्रगाढ़ मैत्री और सुदृढ़ होगी और हमारी Special and Privileged Strategic Partnership को नई बुलंदियां प्राप्त होंगी: PM मोदी

- आतंकवाद के विरूद्ध संघर्ष, अफगानिस्तान तथा Indo Pacific के घटनाक्रम, जलवायु परिवर्तन, SCO, BRICS जैसे संगठनों एवं G20 तथा ASEAN जैसे संगठनों में सहयोग करने में हमारे दोनों देशों के साझा हित हैं. हम अंतरराष्ट्रीय संस्थानों में अपने लाभप्रद सहयोग को जारी रखने पर सहमत हुए हैं : PM मोदी

- मानव संसाधन विकास से लेकर प्राकृतिक संसाधनों तक, व्‍यापार से लेकर निवेश तक, नाभिकीय ऊर्जा के शान्तिपूर्ण सहयोग से लेकर सौर ऊर्जा तक, तकनीक से लेकर बाघ संरक्षण तक, सागर से लेकर अंन्तरिक्ष तक, भारत और रूस के संबंधों का और भी विशाल विस्तार होगा : पीएम मोदी

- रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को व्लादिवोस्तक फोरम में शिरकत का न्योता देता हूं. उन्होंने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ईरान और सीरिया की स्थिति पर चर्चा की. - भारत और रूस के बीच संयुक्त बयान के दौरान रूस के राष्ट्रपति ने पुतिन ने कहा कि भारत की यात्रा उनके लिए अहम है और भारत आना उनके लिए गर्व की बात है. भारत के साथ हमेशा सहयोग को तत्पर रहेंगे . 

-पीएम मोदी ने कहा कि भारत- रूस मैत्री अपने आप में अनूठी है. इस विशिष्ट रिश्ते के लिए राष्ट्रपति पुतिन की प्रतिबद्धता से इन संबंधों को और भी ऊर्जा मिलेगी. और हमारे बीच प्रगाढ़ मैत्री और सुदृढ़ होगी और हमारी स्पेशल और प्रीविलेज स्ट्रेटजी पार्टनर्शिप को नई बुलंदियां प्राप्त होंगी. 

- भारत और रूस के बीच व्यापार समिट भी होगी. 

- पीएम मोदी ने अपने साझा बयान के दौरान कहा कि आतंकवाद के विरूद्ध संघर्ष, अफगानिस्तान तथा इंडो- पासिफिक के घटनाक्रम, जलवायु परिवर्तन, SCO, BRICS जैसे संगठनों एवं G20 तथा ASEAN जैसे संगठनों में सहयोग करने में हमारे दोनों देशों के साझा हित हैं.  हम अंतरराष्ट्रीय संस्थानों में अपने लाभप्रद सहयोग को जारी रखने पर सहमत हुए हैं.

- पीएम मोदी ने कहा कि मानव संसाधन विकास से लेकर प्राकृतिक संसाधन तक, व्यापार से लेकर निवेश तक, नाभिकीय ऊर्जा के शान्तिपूर्ण सहयोग से लेकर सौर ऊर्जा तक, तकनीक से लेकर टाइगर कन्ज़र्वेशन तक, सागर से लेकर अंन्तरिक्ष तक, भारत और रूस के सम्बन्धों का और भी विशाल विस्तार होगा. 
- पीएम मोदी ने कहा कि हमारा अगल मानव मिशन होगा गगनयान और इसमें रूस मदद करेगा. 

- पीएम मोदी ने कहा कि रूस के साथ अपने संबंधों को भारत सर्वोच्च प्राथमिकता देता है. तेजी से बदलते इस विश्व में भारत और रूस के सम्बन्ध और भी अधिक प्रासंगिक हो गए हैं .

- पीएम मोदी ने संयुक्त बयान में कहा कि रूस के साथ हमारा अद्वितीय संबंध है. इन संबंधों के लिए आपने (पुतिन) अतुलनीय योगदान दिया है.

- दोनों देशों के बीच अंतरिक्ष और एटमी समझौतों पर भी समझौते हुए हैं. साथ ही परिवहन के क्षेत्र में भी दोनों देशों के बीच हस्ताक्षर हुए हैं. 

- पीएम मोदी और रूसी राष्ट्रपति जल्द जारी करेंगे साझा बयान.

- भारत और रूस के बीच कई 8 अहम समझौतों पर हुए हस्ताक्षर. जिनमें से सबसे बड़ी डीफेंस डील है. 

- सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक- भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन की मौजूदगी में भारत और रूस के बीच एस-400 मिसाइल प्रतिरक्षा प्रणाली के सौदे पर हुए दस्तखत. हालांकि, आधिकारिक घोषणा डेढ़ बजे के बाद होगी. 
- सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, भारत और रूस के बीच एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली सौदे पर हुए दस्तखत. 
 
mm2gv63

-भारत यात्रा पर आए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने शुक्रवार को दिल्ली स्थित हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. - हैदराबाद हाउस में चल रही है पीएम मोदी और पुतिन की औपचारिक की मुलाकात

- आज 19वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन है. जिसमें भारत और रूस के बीच कई समझौतों पर दस्तखत हो सकते हैं. 

माना जा रहा है कि 19वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी और पुतिन विभिन्न द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर व्यापक चर्चा करेंगे. इनमें मास्को के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध और आतंकवाद विरोधी सहयोग शामिल हैं.  बैठक के पहले प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘राष्ट्रपति पुतिन, भारत में आपका स्वागत है. बातचीत को लेकर उत्सुक हूं, इससे भारत-रूस संबंध और प्रगाढ़ होंगे.’ उनका ट्वीट रूसी भाषा में भी पोस्ट किया गया. पुतिन के भारत पहुंचने के बीच रूसी समाचार एजेंसी तास ने खबर दी है कि शुक्रवार को कई द्विपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे. इनमें भारत को एस-400 वायु रक्षा प्रणाली देने के लिए पांच अरब डॉलर का करार शामिल है. हस्ताक्षर किए जाने वाले समझौतों से रक्षा, अंतरिक्ष, व्यापार, ऊर्जा और पर्यटन जैसे प्रमुख क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा मिलेगा. लेकिन मुख्य ध्यान एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली सौदे पर होगा क्योंकि यदि इस पर हस्ताक्षर किए गए तो इससे रूस से हथियारों की खरीद पर अमेरिकी प्रतिबंधों का उल्लंघन हो सकता है. 

टिप्पणियां
PM मोदी ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन का गर्मजोशी से किया स्वागत, S-400 मिसाइल डील पर रहेगा फोकस

भारत ने संकेत दिए हैं कि अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद वह करार की दिशा में आगे बढ़ेगा. भारत अपने वायु रक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए लंबी दूरी की मिसाइल प्रणाली खरीदना चाहता है, खासतौर पर लगभग 4,000 किलोमीटर लंबी चीन-भारत सीमा के लिए.    रूस भारत के प्रमुख हथियार आपूर्तिकर्ताओं में से एक रहा है. सूत्रों ने पहले कहा था कि मोदी और पुतिन ईरान से कच्चे तेल के आयात पर अमेरिकी प्रतिबंधों के प्रभाव पर भी विचार करेंगे. पीएम मोदी के साथ बातचीत करने के अलावा रूसी नेता पुतिन शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ भी बैठक करेंगे. वह प्रतिभाशाली बच्चों के एक समूह के साथ भी बातचीत करेंगे और भारत-रूस व्यापार बैठक को संबोधित करेंगे.  VIDEO: रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मिले पीएम मोदी


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement