NDTV Khabar

वीवीपैट में खराबी चिंता का विषय नहीं : मुख्य चुनाव आयुक्त

मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा, सोमवार को हुए उपचुनाव में स्टाफ को ट्रेनिंग में कमी और नई वीवीपैट और लाइट सेंसटिविटी का ध्यान न रखने से समस्या हुई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वीवीपैट में खराबी चिंता का विषय नहीं : मुख्य चुनाव आयुक्त

चीफ इलेक्शन कमिश्नर ओपी रावत.

खास बातें

  1. पंजाब विधानसभा चुनावों में 36 प्रतिशत वीवीपैट बदले गए थे
  2. कैराना में सिर्फ 21 प्रतिशत वीवीपैट बदले गए
  3. गोंदिया भंडारा में 49 और कैराना में कुल 73 बूथ पर पुनर्मतदान होगा
नई दिल्ली: वीवीपैट में खराबी चिंता की बात नहीं है. स्टाफ को ट्रेनिंग में कमी और नई वीवीपैट और लाइट सेंसटिविटी का ध्यान न रखने से ये समस्या हुई. यह बात मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने एनडीटीवी इंडिया से बातचीत में कही.

मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा कि सोमवार को हुए उपचुनाव में वीवीपैट में खराबी से चिंता की कोई वजह नहीं है. उन्होंने कहा कि स्टाफ को ट्रेनिंग में कमी और नई वीवीपैट और लाइट सेंसटिविटी का ध्यान न रखने से ये समस्या हुई. रावत ने कहा कि पिछले साल पंजाब विधानसभा चुनावों में 36 प्रतिशत वीवीपैट बदले गए थे जबकि कैराना में सिर्फ 21 प्रतिशत वीवीपैट बदले गए.

यह भी पढ़ें : महाराष्ट्र उपचुनाव : नियमों को ताक पर रख निजी कार से ईवीएम मशीनों को स्ट्रॉन्ग रूम भेजा, जांच के आदेश

चुनाव आयोग ने बुधवार को कुल 122 बूथ पर रीपोलिंग कराने का फैसला किया है. गोंदिया भंडारा में 49 और कैराना में कुल 73 बूथ पर पुनर्मतदान होगा.

टिप्पणियां
VIDEO : ईवीएम पर फिर सवाल

रावत ने कहा कि वीवीपैट की खराबी से घबराने की ज़रूरत नहीं है. सीईसी मे कहा कि चुनाव आयोग आने वाले सभी चुनावों को ईवीएम से ही कराएगा और राजनीतिक पार्टियों की सारी चिंताओं को सुना और सुलझाया जाएगा. आने वाले राज्यों के चुनाव हों या लोकसभा सभी ईवीएम से होंगे. रावत ने कहा कि सभी जगह नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है और मतपत्र से चुनाव कराना एक घिसापिटा तरीका होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement