NDTV Khabar

बदलते मौसम का मिजाज: मौसम विभाग ने इन राज्यों के लिए जारी की चेतावनी, फिर से गिर सकते हैं ओले

दिल्ली एनसीआर और उसके आस-पास के कई इलाकों में ओले गिरने के बाद तापमान में गिरावट देखने को मिली थी. मौसम विभाग ने एक बार फिर ओले गिरने की संभावना व्यक्त की है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बदलते मौसम का मिजाज: मौसम विभाग ने इन राज्यों के लिए जारी की चेतावनी, फिर से गिर सकते हैं ओले

मौसम विभाग ने एक बार फिर ओलावृष्टि की जताई संभावना

नई दिल्ली:

मौसम का बदलता मिजाज लोगों की समझ से बाहर हो चुका है. दिल्ली एनसीआर और उसके आस-पास के कई इलाकों में ओले गिरने के बाद तापमान में गिरावट देखने को मिली थी. मौसम विभाग ने एक बार फिर ओले गिरने की संभावना व्यक्त की है. मौसम विभाग के अनुसार 13 और 14 फरवरी को एक बार फिर से ओले पड़ने की संभावना है. हालांकि इस बार पहले के मुकाबले कम ओले पड़ने की संभावना जताई गई है. बारिश कम होगी लेकिन ओले गिरने की प्रबल संभावना है. मौमस विभाग के मुताबिक 16 फरवरी से मौसम साफ हो जाएगा लेकिन तापमान गिर जाएगा. 13 फरवरी को जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान और पश्चिमी मध्य प्रदेश में तेज हवाओं के साथ ओले गिरने की प्रबल संभावनाएं हैं.

दिल्ली एनसीआर में कई स्थानों पर जोरदार बारिश, नोएडा में जमकर ओले गिरे


14 फरवरी को जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी के आसार जताए गए हैं. इस दौरान पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में बारिश भी हो सकती है. इसके अलावा देश के कई हिस्सों में गरज के साथ तेज बारिश की संभावना जताई गई हैं. इनमें जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के हिस्से शामिल हैं. 

कश्मीर में बर्फबारी का सिलसिला जारी, पंजाब और हरियाणा में तापमान बढ़ा

वहीं बात करें 15 फरवरी की, तो शुक्रवार को उत्तराखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, बिहार , झारखंड, ओडिशा और तेलंगाना में भी तेज हवाओं के साथ मौसम सर्द बने रहने की आशंका है. 

हिमस्खलन का खतरा
मनाली स्थित स्नो एंड एवालैंचे स्टडी इस्टैब्लिशमेंट (सेस) ने स्थानीय लोगों और पर्यटकों को ऊंचाई वाली पहाड़ियों खासतौर पर मनाली क्षेत्र के पर्यटन गंतव्यों पर जाने के दौरान ऐहतियात बरतने की सलाह जारी की है क्योंकि यहां हिमस्खलन का खतरा अधिक है. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि हिमातल प्रदेश में 14 फरवरी को बड़े पैमाने पर बारिश और बर्फबारी की संभावना है." अधिकारियों ने कहा कि क्षेत्र में 12 फरवरी से पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है. जिसकी वजह से शिमला, नारकंडा, कुफरी, मनाली और डलहौजी में बर्फबारी हो सकती है.  शिमला से 250 किलोमीटर दूर मनाली में न्यूनतम तापमान शून्य रहा. लाहौल-स्पीति जिले में स्थित केलांग राज्य में सबसे ठंडा रहा और यहां न्यूनतम तापमान शून्य से 10.8 डिग्री नीचे दर्ज किया गया. 

दिल्ली में आधी रात के बाद फिर हुई बारिश, तापमान में गिरावट-हवा में मामूली सुधार

टिप्पणियां

जम्मू कश्मीर के बारे में बात करते हुए मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि हम 13 से 15 फरवरी के बीच बारिश और बर्फबारी के एक और दौर की उम्मीद कर रहे हैं, लेकिन इसकी तीव्रता पिछले दौर से कम रहने की संभावना है. श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस, जबकि पहलगाम में शून्य से 2.6 डिग्री सेल्सियस और गुलमर्ग में शून्य से सात डिग्री कम दर्ज किया गया. लद्दाख क्षेत्र में लेह का न्यूनतम तापमान शून्य से 8.2 डिग्री नीचे, कारगिल का शून्य से 20.8 डिग्री नीचे और द्रास का शून्य से 14.9 डिग्री नीचे दर्ज किया गया. 

Video: दिल्ली-NCR में बदला मौसम, नोएडा में गिरे ओले



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement