NDTV Khabar

इस बार लेट होगा मानसून, 6 जून को देगा दस्तक, दिल्ली में शुक्रवार तक रहेंगे बारिश के आसार

दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने की स्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस बार लेट होगा मानसून, 6 जून को देगा दस्तक, दिल्ली में शुक्रवार तक रहेंगे बारिश के आसार

मानसून अपनी संभावित तिथि से दो-चार आगे-पीछे भी आ सकता है.

नई दिल्ली:

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने कहा कि इस बार 6 जून तक मानसून (Monsoon) केरल के तट पर पहुंचेगा. मौसम विभाग के अनुसार इस बार मानसून (Monsoon) अपने सामान्य आगमन की तिथि से पांच दिन बाद आ रहा है. विभाग का कहना है कि इस तारीख में चार दिन अधिक या कम भी हो सकते हैं. आईएमडी के अनुसार दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने की स्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं. इससे पहले मंगलवार को मौसम की भविष्यवाणी करने वाली निजी कंपनी स्काईमेट ने कहा था कि केरल में चार जून के आस दस्तक दे सकता है.  स्काईमेट के सीईओ जतिन सिंह ने कहा कि इस मौसम में सभी चार क्षेत्रों में सामान्य से कम बारिश होने जा रही है. पूर्व और पूर्वोत्तर भारत तथा मध्य हिस्से बारिश के मामले में उत्तर पश्चिम भारत और दक्षिणी प्रायद्वीप से खराब स्थिति में रहेंगे. कंपनी के मुताबिक पूर्वी भारत में बारिश कम होने का सबसे ज्यादा खतरा हो सकता है.

यह भी पढ़ें: देश के किसानों के लिए अच्छी खबर, इस मानसून में जमकर होगी बारिश


उधर बुधवार को दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में झमाझम बारिश हुई. मौसम विभाग ने यह जानकारी दी और कहा कि शुक्रवार तक ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना है. मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक, बुधवार सुबह तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 24.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि अधिकतम तापमान सामान्य से तीन-चार डिग्री कम रहने की संभावना है. 

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: राजधानी दिल्ली में बारिश से मौसम हुआ सुहाना लेकिन जाम ने बढ़ाई लोगों की मुसीबत

स्काईमेट के मुताबिक, मानसून के पूर्व बारिश होने की तीन वजहें हैं- पश्चिमी विक्षोभ, चक्रवाती परिसंचरण और दक्षिण पश्चिमी हवाएं. स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (मौसम विज्ञान, जलवायु परिवर्तन) महेश पालावत ने बताया, "एक के बाद एक पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बुधवार को बारिश हुई. पश्चिमी विक्षोभ राजस्थान के ऊपर चक्रवाती परिसंचरण बनाता है. साथ ही अरब सागर से आने वाली दक्षिणी पश्चिमी हवाएं नमी बढ़ा रही हैं." उन्होंने कहा कि इस तरह की स्थिति कम से कम शुक्रवार तक बनी रहेगी. उन्होंने कहा कि बारिश से गर्मी कम होगी और दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और मध्य प्रदेश व उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में तापमान नियंत्रित रहेगा. 
(इनपुट-एजेंसी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement